CM अशोक गहलोत की केंद्र सरकार से मांग, 'महंगाई कम करने के लिए पेट्रोल-डीजल पर और कम हो एक्साइज ड्यूटी'

अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा है कि केंद्र सरकार द्वारा एक्साइज ड्यूटी कम करने के साथ ही राज्यों का उसी अनुपात में वैट स्वतः ही कम हो जाता है। महंगाई को कम करने के लिए केंद्र सरकार को और अधिक एक्साइज ड्यूटी कम करनी चाहिए।

फोटो  : Getty Images
फोटो : Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मोदी सरकार से पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी और कम करने की मांग की है। अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा है कि केंद्र सरकार द्वारा एक्साइज ड्यूटी कम करने के साथ ही राज्यों का उसी अनुपात में वैट स्वतः ही कम हो जाता है। उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि महंगाई को कम करने के लिए केंद्र सरकार को और अधिक एक्साइज ड्यूटी कम करनी चाहिए।

अशोक गहलोत ने एक बयान में कहा, 'केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल पर 5 रुपये और डीजल पर 10 रुपये प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी कम करने से वैट की दर में पेट्रोल पर 1.8 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 2.6 रुपये प्रति लीटर की कमी होगी। इससे राज्य के वैट राजस्व में हर साल लगभग 1800 करोड़ रुपये का नुकसान होगा। इस प्रकार राज्य में पेट्रोल 6.8 और डीजल 12.6 रुपये प्रति लीटर सस्ता होगा।'

उन्होंने आगे कहा, 'हम शुरू से ही केंद्र सरकार को एक्साइज ड्यूटी कम करने का आग्रह करते रहे हैं, जिससे आमजन को एक्साइज ड्यूटी और वैट में कमी का लाभ एक साथ मिल सके।' इसी के साथ अशोक गहलोत ने कहा, 'हर जिले में जिला प्रशासन, ऑयल कंपनियों और पेट्रोल पंपों के सहयोग से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि पेट्रोल-डीजल की दरों में कमी लाभ सीधा आमजन को मिले।'

गौरतलब है कि दिवाली की पूर्व संध्या पर केंद्र द्वारा उत्पाद शुल्क में कटौती के बाद गुरुवार को देश भर में ईंधन की कीमतों में कमी की गई। केंद्र सरकार ने बुधवार को पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में क्रमशः 5 रुपये और 10 रुपये की कमी की, जो आज से प्रभावी है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia