दिल्ली शराब नीति घोटाला: CBI के सामने पेशी से पहले CM केजरीवाल बोले- ये लोग बहुत ताकतवर हैं, भेज सकते हैं जेल

सीएम केजरीवाल ने कहा कि कल से इनके सारे नेता चिल्लाकर कह रहे हैं केजरीवाल को गिरफ्तार करेंगे। शायद बीजेपी ने सीबीआई को आदेश भी दे दिया है कि केजरीवाल को गिरफ्तार करना है, अब बीजेपी ने आदेश दिया है तो सीबीआई की क्या मजाल है।

फोटो: ANI
फोटो: ANI
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली शराब नीति घोटाला मामले में आज सीबीआई दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से पूछताछ करेगी। पूछताछ के लिए जाने से पहले सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, “सीबीआई ने मुझे बुलाया है, थोड़ी देर में निकलूंगा, जब कुछ गलत किया नहीं तो छिपाना क्या? यह लोग बहुत ताकतवर हैं किसी को भी जेल भेज सकते हैं चाहे किसी ने कोई जुर्म किया हो या ना हो।

सीएम केजरीवाल ने आगे कहा, “कल से इनके सारे नेता चिल्लाकर कह रहे हैं केजरीवाल को गिरफ्तार करेंगे। शायद बीजेपी ने सीबीआई को आदेश भी दे दिया है कि केजरीवाल को गिरफ्तार करना है, अब बीजेपी ने आदेश दिया है तो सीबीआई की क्या मजाल है।"

आबकारी नीति मामले में पूछताछ के लिए सीबीआई ने दिल्ली मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को आज तलब किया है। दिल्ली के लोधी रोड स्थित सीबीआई मुख्यालय के बाहर अर्धसैनिक बलों समेत 1,000 से अधिक सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गाय है। अधिकारियों के मुताबिक, राउज एवेन्यू कोर्ट के पास स्थित आम आदमी पार्टी (आप) के कार्यालय के बाहर भी सुरक्षा बढ़ा दी जाएगी।

आप कार्यकर्ताओं या समर्थकों को किसी तरह की परेशानी न हो, इसके लिए आसपास की सड़कों पर पर्याप्त संख्या में बेरिकेड्स लगाए जाएंगे। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, "हमने एक व्यापक सुरक्षा व्यवस्था की है, और चूंकि वह एक मुख्यमंत्री हैं, निस्संदेह उनकी सुरक्षा के लिए कड़ी सुरक्षा होगी।"


अधिकारी ने आगे कहा कि अर्धसैनिक बलों सहित 1,000 से अधिक सुरक्षाकर्मियों को यह सुनिश्चित करने के लिए सीबीआई मुख्यालय के बाहर तैनात किया गया है ताकि कोई अप्रिय घटना न हो।

डीसीपी (दक्षिण) चंदन चौधरी ने कहा कि क्षेत्र में धारा 144 सीआरपीसी लगाई गई है। सीबीआई द्वारा जारी एक नोटिस के अनुसार, सीबीआई ने आबकारी नीति मामले में गवाह के रूप में जांच टीम के सामने पेश होने के लिए केजरीवाल को सुबह 11 बजे अपने कार्यालय में बुलाया है।

घोषणा की गई है कि पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान और दिल्ली के सभी कैबिनेट मंत्री केजरीवाल के साथ सीबीआई कार्यालय जाएंगे। केजरीवाल को दिल्ली आबकारी नीति 2021-22 मामले के संबंध में पहली बार सीबीआई द्वारा तलब किया गया है, जिससे कथित तौर पर दिल्ली सरकार को नुकसान हुआ और शराब व्यापारियों के एक समूह को लाभ हुआ। प्रवर्तन निदेशालय द्वारा 6 जनवरी को एक विशेष ईडी अदालत के समक्ष दायर दूसरी चार्जशीट में केजरीवाल के नाम का जिक्र किया गया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */