दिल्ली में अभी खत्म नहीं होगी ठंड! न्यूनतम तापमान इतने डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना

आईएमडी के अनुसार, एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ 2 फरवरी से उत्तर पश्चिमी भारत को प्रभावित करने की बहुत संभावना है। मौसम एजेंसी ने कहा, "3 फरवरी को दक्षिण-पश्चिम राजस्थान और पड़ोस में एक प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण बनने की संभावना है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। ये जानकारी भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने सोमवार को दी। सुबह 8.30 बजे अधिकतम तापमान 22.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज होने के साथ, केंद्र शासित प्रदेश में सुबह धुंध के साथ साफ आसमान रहेगा।

मंगलवार को भी न्यूनतम तापमान सात डिग्री के आसपास रहेगा। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को कहा, दिल्ली के साथ-साथ पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश जैसे अन्य उत्तर पश्चिमी राज्यों में 2-4 फरवरी के दौरान बारिश होगी।

आईएमडी ने बताया, "2 से 4 फरवरी के दौरान पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में काफी व्यापक रूप से हल्की/मध्यम वर्षा होने की संभावना है।" जबकि 3 फरवरी को गरज के साथ बारिश के साथ बादल छाए रहने की संभावना है। 4 और 5 फरवरी को दिन भर आसमान में मुख्य रूप से बादल छाए रहेंगे।

आईएमडी के अनुसार, एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ 2 फरवरी से उत्तर पश्चिमी भारत को प्रभावित करने की बहुत संभावना है। मौसम एजेंसी ने कहा, "3 फरवरी को दक्षिण-पश्चिम राजस्थान और पड़ोस में एक प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण बनने की संभावना है। इसके अलावा, अरब सागर से उत्तर-पश्चिम भारत में निचले और मध्य क्षोभमंडल स्तर पर नमी की आपूर्ति भी 2 और 3 फरवरी को होने की संभावना है।"

इस बीच, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की वायु गुणवत्ता बहुत खराब में श्रेणी में बनी हुई है। सोमवार को राजधानी में एक्यूआई 302 दर्ज किया गया है। सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) के अनुमानों के अनुसार, पीएम 2.5 और पीएम 10 दोनों प्रदूषकों का स्तर क्रमश: बहुत खराब और मध्यम श्रेणी में दर्ज किया गया।

बुलेटिन के अनुसार, अगले दो दिनों यानी 1 और 2 फरवरी को एक्यूआई समान रहने की संभावना है क्योंकि मौजूदा मौसम की स्थिति में महत्वपूर्ण बदलाव की संभावना नहीं है। 3 फरवरी को, तेज हवा के साथ बारिश होने की संभावना है और वायु गुणवत्ता में सुधार होने की उम्मीद है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia