गुजरात: कॉलेज में जिग्नेश मेवाणी के बुलाए जाने पर कार्यक्रम रद्द, नाराज कॉलेज प्रिंसिपल ने दिया इस्तीफा

गुजरात के वडगाम सीट से विधायक जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि एचके आर्ट्स कॉलेज के ट्रस्टी को बीजेपी के गुंडों के धमकी भरे फोन के बाद वार्षिकोत्सव रद्द कर दिया गया, जिसमें मुझे मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था।

नवजीवन डेस्क

गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी को एक कॉलेज में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित करने पर कुछ छात्रों की आपत्ति के बाद वार्षिकोत्सव रद कर दिया गया। इतना नहीं समारोह के लिए सभाखंड की मंजूरी रद्द करने के ट्रस्ट के फैसले के विरोध में प्रिंसिपल हेमंत कुमार शाह और वाइस प्रिंसिपल मोहनभाई परामर ने भी इस्तीफा दे दिया है।

रविवार की देर शाम कॉलेज के प्रिंसिपल हेमंत शाह ने कार्यक्रम रद्द होने की जानकारी सोशल मीडिया के जरिए दी। उन्होंने सोमवार को ट्रस्ट को एक पत्र लिखकर उनके फैसले को संविधान के विचार, वाणी और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के खिलाफ बताते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

उन्होंने आगे कहा कि एक राजनीतिक संगठन के छात्र संगठन के दबाव में आकर ट्रस्ट ने अपना फैसला बदल लिया। यह दुखद है। जिग्नेश मेवाणी को बुलाने पर तर्क देते हुए उन्होंने कहा कि पहले भी कॉलेज के समारोह में राजनीतिक लोगों को आमंत्रित किया जाता रहा है। इसमे नया कुछ नहीं है। उन्होंने आगे लिखा कि जिग्नेश मेवाणी को भी अपनी बात कहने का पूरा अधिकार है, इस तरह के अधिकारों पर हमले का मैं विरोध करता रहा हूं।

उन्होंने कहा, “छात्र नेताओं का मानना था कि मेवानी विवादास्पद हैं, इसलिए उन्हें कॉलेज में आमंत्रित नहीं किया जाना चाहिए। विरोधी छात्र नेताओं ने धमकी थी कि अगर वे समारोह में उपस्थित होंगे तो छात्र इस समारोह को होने नहीं देंगे, बल्कि दंगा हो जाएगा। उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि ट्रस्टी इस धमकी से डर गए और इसी डर में समारोह के लिए सभागार की अनुमति नहीं देने का फैसला किया।”

इस घटना पर मेवाणी ने ट्वीट कर कहा, “बीजेपी के गुंडों द्वारा दी गई धमकियों के कारण एचके आटर्स कॉलेज, अहमदाबाद के न्यासियों ने उस वार्षिक समारोह को रद्द कर दिया, जहां मुझे मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था। बाबा साहेब (आंबेडकर) के जीवन और मिशन के बारे में बात करने जा रहा था। प्राचार्य हेमंत शाह को सलाम जिन्होंने नैतिक आधार पर इस्तीफा दे दिया।”

दरअसल, 11 फरवरी को कॉलेज के वार्षिक समारोह में जिग्नेश मेवानी को बतौर मुख्य अथिति बुलाया जाना था। लेकिन, कॉलेज के प्रबंधक ने वार्षिक समारोह के लिए कॉलेज सभागार देने की अनुमति को अस्वीकार कर दिया।

लोकप्रिय