पीएम-बीजेपी अध्यक्ष ने कर्नाटक में राज्यपाल के हाथों कराया ‘संविधान का एनकाउंटर’: कांग्रेस

कर्नाटक में राज्यपाल द्वारा अल्पमत वाले दल बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिए जाने को कांग्रेस ने लोकतंत्र की हत्या बताते हुए इसे संविधान का एनकाउंटर करार दिया है। कांग्रेस ने कहा है कि हम अपने सभी संवैधानिक अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए लोगों के बीच जाएंगे।

पीएम और बीजेपी अध्यक्ष ने कर्नाटक के राज्यपाल के हाथों 'संविधान का एनकाउंटर' कराया है और गुरुवार को कर्नाटक में एक ऐसी अनैतिक और गैरकानूनी सरकार को शपथ दिलाई जाने वाली है जिसकी इजाजत न तो कानून देता है और न ही संवैधानिक नियम और मिसालें। यह आरोप बुधवार को कांग्रेस ने उस वक्त लगाए, जब देर शाम खबर आई कि कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने मात्र 105 विधायकों के समर्थन वाले बीजेपी के बी एस येदियुरप्पा को सरकार बनाने का न्योता दिया है।

गौरतलब है कि बुधवार को बेंग्लुरु में बी एस येदियुरप्पा ने राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था, और उसके बाद शाम को जेडीएस और कांग्रेस नेताओं ने 117 विधायकों के हस्ताक्षर के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया। लेकिन राज्यपाल ने बहुमत वाले गठबंधन के बजाय अल्पमत वाले दल को सरकार बनाने का न्योता दिया।

बुधवार देर शाम हुई विशेष प्रेस कांफ्रेंस में कांग्रेस मीडिया सेल के प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि प्रधानमंत्री और बीजेपी अध्यक्ष ने कर्नाटक के राज्यपाल द्वारा ‘संविधान का एनकाउंटर’ करने का आदेश दिया है। उन्होंने कहा कि राज्यपाल वजुभाई वाला ने संविधान की सेवा के बजाए अपने ‘मास्टर्स’ के इशारे पर कठपुतली की तरह काम किया है।

उन्होंने कहा कि बीजेपी ने पवित्र संविधान की धज्जियां उड़ाते हुए लोकतंत्र की हत्या कर कर्नाटक के राजभवन से ‘ऑपरेशन कमल’ शुरु किया है। सुरजेवाला ने कहा कि, “कल एक ऐसी गैरकानूनी और अनैतिक सरकार शपथ लेने जा रही है,जिसकी न तो कानून इजाजत देता है और न ही संवैधानिक नियम और मिसालें।”

सुरजेवाला ने कहा कि संविधान और सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के अनुसार राज्यपाल को अपने विवेक या अधिकारों के इस्तेमाल के बजाय स्पष्ट बहुमत वाले चुनाव पश्चात गठबंधन को सरकार बनाने का मौका देना चाहिए था। उन्होंने रामेश्वर प्रसाद केस और गोवा केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसलों का हवाला भी दिया। उन्होंने कहा कि बीजेपी संविधान में विश्वास नहीं रखती और सत्ता के लोभ में कुछ भी कर गुजरती है।

सुरजेवाला ने कहा कि लोकतंत्र के अपमान और संविधान का गला घोंटने वाली इन साजिशों को कभी कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कर्नाटक की जनता, जेडीएस और कांग्रेस मिलकर बीजेपी के इस अवैध डिजायन को हराएंगे। उन्होंने बीजेपी को याद दिलाया कि आप कितने ही ताकतवर क्यों न हो, लेकिन सत्य सर्वोपरि होता है।

इससे पहले रात करीब सवा आठ बजे हुई प्रेस कांफ्रेंस में कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने राज्यपाल के सामने विधायकों की परेड कराने की पेशकश रखी थी, लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया, और अल्पमत वाले दल को न्योता देकर संविधान और लोकतंत्र की हत्या की है। उन्होंने कहा जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन ने राज्यपाल को पूर्व में हुए इस प्रकार के फैसलों की प्रति भी उपलब्ध कराई थी, लेकिन उन्होंने इस सबको नजरंदाज कर दिया।

इसी प्रेस कांफ्रेंस में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि कुछ ताकतें है जो काम कर रही हैं, और बीजेपी को दो दिन का मौका दिया जाना यही साबित करता है कि उन्हें विधायक तोड़ने का मौका दिया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र की सरकार मन की बात नहीं, बल्कि धन की बात कर रही है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

सबसे लोकप्रिय