महामारी में भी मास्क से मुनाफाखोरी कर रही गुजरात सरकार, कांग्रेस का आरोप

कांग्रेस ने गुजरात सरकार पर मुनफाखोरी का आरोप लगाया है। कांग्रेस का आरोप है कि विजय रुपाणी सरकार कोरोना महामारी के बीच गुजरात की जनता के पैसे से मुनाफाखोरी कर रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना वायरस के कारण गुजरात में अब तक 800 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां सबसे ज्यादा अहमदाबाद में कोरोना ने कोहराम मयाचा है। वहीं कांग्रेस ने गुजरात सरकार पर मुनफाखोरी का आरोप लगाया है। कांग्रेस का आरोप है कि विजय रुपाणी सरकार कोरोना महामारी के बीच गुजरात की जनता के पैसे से मुनाफाखोरी कर रही है।

बता दें कि गुजरात की रुपाणी सरकार ने कहा था कि गुजरात के अमूल दूध के 2000 पार्लर पर एन95 मास्क 65 रुपये में जबकि तीन लेयर मास्क 5 रुपये में मुहैया कराए जाएंगे। इस पर अब कांग्रेस ने रुपाणी सरकार पर हमला बोला है।

कांग्रेस का कहना है कि गुजरात मेडिकल कॉर्पोरेशन लिमिटेड कंपनी के राज्य के अलग-अलग डिपार्टमेंट में एन95 मास्क की खरीदारी कीमत 49.61 रुपये है। वहीं इस सरकारी कंपनी ने दूसरे सरकारी डिपार्टमेंट को भी एन95 मास्क इसी दाम पर खरीदने का आदेश दिया है।

कांग्रेस का आरोप है कि सरकार मुनाफाखोरी कर 49.61 रुपये में लिए गए N95 मास्क अब 65 रुपये में बेच रही है। कांग्रेस नेता अमित चावड़ा ने ट्वीट करते हुए लिखा, सरकार में महामारी के समय में लोगों को मदद की जगह, बीजेपी के लोग मुनाफा कमाने में लगे हैं....

हालांकि बीजेपी ने मुनाफाखोरी से इनकार किया है। बीजेपी नेता प्रशांत वाला ने कहा है कि बाजार में N95 मास्क की कीमत 100, 150, 200 रुपए भी है। सब को मास्क मिल जाए इसलिए इसे अमूल पार्लर पर मुहैया करवाया जा रहा है। मास्क में जीएसटी और ट्रांसपोर्टेशन खर्च लगा है। इसके बाद इसकी कीमत 65 रुपये हुई।

लोकप्रिय