यूपी में दलित अधिकारी की खुदकुशी को लेकर कांग्रेस ने योगी सरकार पर बोला हमला, कहा- कुशासन का नतीजा

कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा है कि यूपी में एक अधिकारी द्वारा आत्महत्या करने की घटना बीजेपी सरकार के कुशासन का नतीजा है। कांग्रेस ने आगे कहा कि योगी सरकार अगर अधिकारी की जीवन सहज नहीं है, तो फिर आम लोगों की क्या स्थिति होगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस ने यूपी में एक अधिकारी द्वारा आत्महत्या करने की घटना को लकर योगी सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा है कि यह घटना बीजेपी सरकार के कुशासन का नतीजा है। कांग्रेस का कहना है कि योगी सरकार अगर अधिकारी की जीवन सहज नहीं है, तो फिर आम लोगों की क्या स्थिति होगी।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के विकासखंड गोला में पंचायात में तैनात दलित ग्राम विकास अधिकारी ने भारतीय क‍िसान यून‍ियन के नेताओं और प्रधानों से परेशान होकर खुदकुशी कर ली। ग्राम विकास अधिकारी त्रिवेंद्र कुमार ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें उन्होंने अपना दर्द बयां किया है। उन्होंने सुसाइड नोट में बताया है कि कैसे जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल करके उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा था, और यही वजह है कि उन्होंने खुदकुशी कर ली।

सुसाइड नोट में लिखा है, “मैं किसान यूनियन और प्रधानों के द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा हूं, जिससे मैं बहुत ही परेशान हूं। मुझे गाली दिया जाता है, और आरक्षण के खिलाफ बोला जाता है, जोकि बहुत ही गलत है। मैं अपनी जिंदगी से परेशान हो गया हूं। मैं अपने परिवार से बहुत प्यार करता हूं और विश्वास करता हूं। ब्लॉक पर मेरा मजाक बनाया जाता है। अगर मुझे कुछ होता है तो उसके जिम्मेदार सिर्फ किसान यूनियन पार्टी और उसके अध्यक्ष, रसूलपुर के प्रधान, देवरिया प्रधान के बेटे पप्पू ही हैं।”

सुसाइड नोट में आगे लिखा है, “मुझे दिमागी रूप से ये पार्टी और प्रधान प्रताड़ित करते हैं। मैं अपने आप से विफल हो गया हूं। मेरे मरने के बाद मेरे परिवार को कोई भी परेशान नहीं करेगा। मैं अपने स्वंय की इच्छा से मरने जा रहा हूं। लेकिन मेरे मर जाने के बाद पार्टी अध्यक्ष और प्रधानों को सजा मिले, ताकि ये किसी और को परेशान न कर सकें।”

इसे भी पढ़े: यूपी में दलित अधिकारी ने की खुदकुशी, सुसाइड नोट में बयां किया दर्द, सीएम योगी की धौंस देकर किया गया प्रताड़ित

लोकप्रिय