कांग्रेस चिंतन शिविर: सोनिया गांधी की अध्यक्षता में हो रही CWC की बैठक, मंथन से निकले अहम प्रस्तावों पर लगेगी मुहर

कांग्रेस के राजनीतिक प्रस्ताव में शामिल कई बड़े फैसले लिए जा सकते हैं। इनमें ईवीएम का मुद्दा, चीन का मुद्दा, संस्कृतिक विरासत, संविधानों के मूलभूत सिद्धांतों और संवैधानिक संस्थानों पर भी फैसला लिया जा सकता है।

फोटो: @INCIndia
फोटो: @INCIndia
user

नवजीवन डेस्क

राजस्थान के उदयपुर में कांग्रेस के 'नव संकल्प चिंतन शिविर' का आज आखिरी दिन है। कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी की अध्यक्षता में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हो रही है। छह सूत्रीय प्रस्ताव की रिपोर्ट सोनिया गांधी को सौंप दी गई है। प्रस्तावों की रिपोर्ट पर अब सीडब्ल्यूसी की बैठक में चर्चा की जा रही है। तीन दिन में तैयार हुए मसौदे पर अंतिम मुहर लग जाएगी। छह कमिटियों के अध्यक्षों और उनमें शामिल 430 वरिष्ठ नेताओं ने कांग्रेस का भविष्य लगभग तैयार किया है।

कांग्रेस के राजनीतिक प्रस्ताव में शामिल कई बड़े फैसले लिए जा सकते हैं। इनमें ईवीएम का मुद्दा, चीन का मुद्दा, संस्कृतिक विरासत, संविधानों के मूलभूत सिद्धांतों और संवैधानिक संस्थानों पर भी फैसला लिया जा सकता है।

राजनीतिक प्रस्तावों के अलावा किसान-कृषि, युवा-संबंधी मुद्दे, सामाजिक न्याय और कल्याण और अर्थव्यवस्था शामिल है। एक परिवार एक टिकट, युवाओं, एससी-एसटी, ओबीसी और अल्पसंख्यकों के लिए 50 फीसदी आरक्षण, संसदीय दल बोर्ड गठन, यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई आंतरिक चुनाव शामिल है।


राजनीति, आर्थिक, संगठन और अन्य मुद्दों पर प्रस्ताव पारित किए जाएंगे। बैठक के बाद उदयपुर डेक्लेरेशन यानी घोषणापत्र का ऐलान किया जाएगा। 'नव संकल्प चिंतन शिविर' में राष्ट्र हित से जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों और पार्टी में संगठनात्मक बदलाव पर विस्तृत चर्चा हो रही है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 15 May 2022, 2:29 PM