यूपी में 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' को लेकर जोश, प्रियंका गांधी नोएडा से लेकर काशी तक करेंगी 6 मैराथन रैली

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की अगुवाई में उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' अभियान को लेकर महिलाओं और युवा वोटरों में जबरदस्त जोश देखा जा रहा है। इसके तहत प्रियंका गांधी आने वाले दिनों में नोएडा से काशी तक 6 मैराथन रैलियां करेंगी।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश चुनाव का बिगुल बजने से पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी यूपी में धुआंधार रैलियां करेंगी। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के अभियान 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' के तहत कांग्रेस 4 जनवरी को बरेली में, 5 जनवरी को आजमगढ़ में, 6 जनवरी को बनारस में, 7 जनवरी को कानपुर, 8 जनवरी को प्रयागराज व नोएडा में मैराथन रैली कराने जा रही है। बनारस में होने वाली मैराथन सिंहद्वार से शुरू होकर रविंद्रपुरी, भेलूपुर, कमच्छा होते हुए सिगरा स्थित शहीद उद्यान पर समाप्त होगी, जिसके बाद विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया जाएगा।

गौरतलब है कि प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में महिला शक्ति पर ध्यान केंद्रित कर रही हैं। इससे पहले वे कह चुकी हैं कि कांग्रेस जाति और धर्म की राजनीति में विश्वास नहीं करती और अपने अभियान में निष्पक्ष जेंडर पर ध्यान रखा है और महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट का वादा किया है।

प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के तमाम जिलों में महिला रैलियों को संबोधित करने वाली हैं। इसके साथ ही समाजवादी पार्टी के गढ़ माने जाने वाले फिरोजाबाद में भी मैराथन करने की तैयारी में हैं। सभी क्षेत्रों में प्रियंका गांधी 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' अभियान को संबोधित करेंगी, जो महिला मतदाताओं के बीच जोर पकड़ रहा है और पार्टी को लगता है कि यह आगामी उत्तर प्रदेश चुनावों में गेमचेंजर हो सकता है।

कई महीने पहले से ही कांग्रेस पार्टी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारी में है। 403 सीटों वाली इस 18वीं विधानसभा के लिए ये चुनाव फरवरी से अप्रैल के बीच हो सकते हैं। 17वीं विधानसभा का कार्यकाल 15 मई तक है। 17वीं विधानसभा के लिए 403 सीटों पर चुनाव 11 फरवरी से 8 मार्च 2017 तक 7 चरणों में हुए थे। इनमें लगभग 61 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था। इनमें 63 प्रतिशत से ज्यादा महिलाएं थीं, जबकि पुरुषों का प्रतिशत करीब 60 फीसदी रहा। चुनाव में बीजेपी ने 312 सीटें जीतकर पहली बार यूपी विधानसभा में तीन चौथाई बहुमत हासिल किया था। वहीं अखिलेश यादव की अगुवाई में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन 54 सीटें जीत सका। इसके अलावा प्रदेश में कई बार मुख्यमंत्री रह चुकीं मायावती की बीएसपी (बहुजन समाज पार्टी) 19 सीटों पर सिमट गई थी।


फिलहला बीजेपी योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे को आगे कर चुनाव लड़ रही है। लेकिन कांग्रेस पार्टी ने उत्तर प्रदेश में एक नई ताकत और जोश के साथ अपना अभियान शुरु किया है। महिला वोटरों में प्रियंका गांधी को लेकर काफी उत्साह देखा जा रहा है।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia