राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं को नहीं डरने का दिया मूल मंत्र! कहा- एक दूसरे की ताकत बनकर रहेंगे खड़े

राहुल गांधी ने शुक्रवार को सोशल मीडिया कार्यकर्ताओं की वर्चुअल बैठक में पार्टी छोड़कर जाने वाले नेताओं पर निशाना साधा था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गांधी ने एक बार फिर पार्टी कार्यकर्ताओं से एक-दूसरे की ताकत बनने और नहीं डरने की बात कही है। कांग्रेस नेता ने कार्यकर्ताओं की वर्चुअल मीटिंग का फोटो शेयर करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने अपने ट्ववीट में लिखा " एक दूसरे की ताक़त बनकर खड़े रहेंगे- नहीं डरे हैं, नहीं डरेंगे!"

दरअसल, राहुल गांधी ने शुक्रवार को सोशल मीडिया कार्यकर्ताओं की वर्चुअल बैठक में पार्टी छोड़कर जाने वाले नेताओं पर निशाना साधा था। राहुल ने कहा था कि जो डर गए वो बीजेपी में चले जाएंगे, जो नहीं डरेगा वो कांग्रेस में रहेगा। उन्होंने कांग्रेस को निडर लोगों की पार्टी बताते हुए कहा था कि हमें निडर लोग चाहिए। जो डर रहे हैं उन्हें कहो, "जाओ भागो, नहीं चाहिए।" उन्होंने यह भी कहा था कि दूसरी पार्टी में जो निडर लोग हैं, वो हमारे हैं। उन्हें ले कर आओ। कांग्रेस में शामिल करो। ये निडर लोगों की पार्टी है।

राहुल गांधी ने मीटिंग में आरएसएस और ज्योतिरादित्य सिंधिया पर भी निशाना साधा था। उन्होनें कहा था कि सिंधिया जी डर गए तो आरएसएस के हो गए। ये आरएसएस के लोग हैं और उन्हें बाहर जाना चाहिए, उन्हें आनंद लेने दीजिए। हम उन्हें नहीं चाहते हैं, उनकी जरूरत नहीं है। हमें निडर लोगों की जरूरत है। आपको बता दें कि पिछले कुछ महीनों में कांग्रेस के कई नेता बीजेपी में शामिल हो गए। इनमें सिंधिया और जितिन प्रसाद प्रमुख हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia