कोरोना से जान गंवाने वालों के प्रति राहुल गांधी ने व्यक्त की संवेदना, बोले- आप अकेले नहीं, साथ हैं तो आस है

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि, इलाज की कमी के चलते अपने प्रियजन खो रहे देशवासियों को मेरी संवेदनाएँ। इस त्रासदी में आप अकेले नहीं हैं। देश के हर राज्य से प्रार्थना व सहानुभूति आपके साथ है। साथ हैं तो आस है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

देशभर में बढ़ते कोरोना के कारण अस्पतालों में लोगों को इलाज के लिए बेड नहीं मिल रहे और ऑक्सिजन की किल्लत भी देखी जा ही है। ऐसे में कई लोगों ने अपनो को खो दिया है । इस बीच पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ऐसे लोगों को अपनी संवेदनाएं व्यक्त की है।

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि, इलाज की कमी के चलते अपने प्रियजन खो रहे देशवासियों को मेरी संवेदनाएँ। इस त्रासदी में आप अकेले नहीं हैं। देश के हर राज्य से प्रार्थना व सहानुभूति आपके साथ है। साथ हैं तो आस है।

इससे पहले राहुल गांधी ने कविता के माध्यम से सरकार पर निशाना साधा था। अपने ट्वीट में उन्‍होंने लिखा, 'जो भरा नहीं है भावों से, जो दर्द सुनने को तैयार नहीं,वह हृदय नहीं है पत्थर है, जिस ‘सिस्टम' को जन से प्यार नहीं!' देश के स्‍वाधीनता संग्राम के दौरान लिखी गई पुरानी कविता को राहुल ने कुछ संशोधन के साथ अपने ट्वीट में स्‍थान दिया है।

दरअसल कोरोना संक्रमण की एक लहर में स्वास्थ्य व्यवस्थाएं चरमरा गई है, जिसके कारण लोगों को इलाज तक नहीं मिल पा रहा है, इलाज तो दूर अस्पतालों में लोगों को बेड नहीं मिल पा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान देशभर में कोरोना वायरस के 3.86 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं और इन नए मामलों के साथ अब देश में कुल कोरोना वायरस मामलों का आंकड़ा 1.87 करोड़ को भी पार कर गया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान देश में कुल 386452 नए कोरोना मामले दर्ज किए गए हैं। अब देश में कोरोना के एक्टिव मामलों का आंकड़ा बढ़कर 31.70 लाख के पार हो गया है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia