कांग्रेस नेताओं ने दिल्ली पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत, पार्टी मुख्यालय में बदसलूकी का लगाया आरोप

कांग्रेस नेता अविनाश पांडे, हरीश चौधरी, प्रणव झा और चल्ला वामशी रेड्डी द्वारा यह शिकायत दर्ज कराई गई है। इसमें कहा गया है कि दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने पार्टी मुख्यालय में घुसरकर नेताओं के साथ बदसलूकी की।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से बुधवार को ईडी की पूछताछ के दौरान पार्टी नेताओं ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान दिल्ली पुलिस पर कांग्रेस पार्टी ने बदसलूकी के आरोप लगाए। कांग्रेस ने पार्टी नेताओं के साथ बदसलूकी और पार्टी मुख्यालय में पुलिस के घुसने का आरोप लगाते हुए देर रात इस सबंध में दिल्ली के तुगलक रोड थाने में पुलिस के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई।

कांग्रेस नेता अविनाश पांडे, हरीश चौधरी, प्रणव झा और चल्ला वामशी रेड्डी द्वारा यह शिकायत दर्ज कराई गई है। इसमें कहा गया है कि दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने पार्टी मुख्यालय में घुसरकर नेताओं के साथ बदसलूकी की। पुलिस की तरफ से बिना उकसावे के कार्रवाई की गई। शिकायत में कहा गया है कि हमें उम्मीद है कि दिल्ली पुलिस कानून के शासन और हमारे संविधान को शर्मसार करने वाले अपराधियों के खिलाफ त्वरित और उचित कार्रवाई करेगी।

कांग्रेस नेता अविनाश पांडे ने ट्वीट कर कहा कि दिल्ली पुलिस द्वारा बिना कानूनी प्रक्रिया के पालन किए, कांग्रेस मुख्यालय में घुसकर कार्यकर्ताओं और नेताओं साथ की गई बर्बरता निंदनीय है, इसके खिलाफ थाना तुगलक रोड में शिकायत दर्ज कराई है।


कांग्रेस कार्यालय में पुलिस के प्रवेश करने और नेताओं के साथ बुधवार को बदसलूकी के वीडियो सामने आए थे। वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे पुलिस कांग्रेस मुख्यायल में घुसी और बसलूकी करते नजर आई। हालांकि, बाद में दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने इस बात से इनकार कर दिया था कि पुलिस कांग्रेस मुख्यालय में घुसी थी।

वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी और मोदी सरकार की पिट्ठू दिल्ली पुलिस गुंडागर्दी की हर सीमा पार गई। बीजेपी के इशारे पर पुलिस दरवाजे तोड़कर कांग्रेस मुख्यालय में घुसी और नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को पीटा। अब लगता है कि प्रजांतत्र की हत्या हो चुकी है, संविधान को बुलडोजर के नीचे रौंद दिया गया है, केवल अत्याचार का शासन बचा है।

उन्होंने कहा कि हमारे सब्र का इम्तहान ना लें। किस हैसियत से पुलिस ने कांग्रेस मुख्यालय पर हमला बोला? वे कैसे कांग्रेस मुख्यालय में घुसकर नेताओं और कार्यकर्ताओं को पीट सकते हैं? इसका जवाब दिल्ली पुलिस और मोदी सरकार को देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि इस घटना के लिए जिम्मेदार अधिकारी जान लें कि एक-एक अधिकारी का हिसाब होगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia