कांग्रेस ने जारी किया बीजेपी नेताओं को करोड़ों भुगतान वाली ‘येदियुरप्पा डायरी’ का वीडियो

बीजेपी के बड़े नेताओं को करोड़ों रुपये के भुगतान के जिक्र वाली कर्नाटक के पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा की कथित डायरी के मामले में कांग्रेस ने दावा किया है कि अब मूल डायरी सामने आ गई है, इसलिए इस मामले में लोकपाल को स्वत: संज्ञान लेकर जांच शुरू करनी चाहिए।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कर्नाटक के पूर्व सीएम और बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा की करोड़ों के लेनदेन के हिसाब वाली कथित डायरी के मामले को एक बार फिर नए सिरे से उठाते हुए कांग्रेस ने सोमवार को इस मामले की लोकपाल से जांच की मांग की। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने प्रेस को संबोधित करते हुए दावा किया कि अब तो वह मूल डायरी ही सामने आ गई है, इसलिए लोकपाल को स्वतः संज्ञान लेते हुए इस मामले की जांच करनी चाहिए।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने इस दौरान कन्नड़ में लिखी उस डायरी का वीडियो जारी करते हुए आरोप लगाया कि येदियुरप्पा ने बीजेपी के केंद्रीय नेताओं को करोड़ों रुपये का भुगतान किया, जिसकी एंट्री इस डायरी में दर्ज है और इसमें येदियुरप्पा के हस्ताक्षर भी हैं। सिब्बल ने कहा कि डायरी में बीजेपी नेताओं को कुल 2000 करोड़ रुपये से ज्यादा का भुगतान करने की बात कही गई है। डायरी से पता चलता है कि इसमें करीब 1800 करोड़ रुपये बीजेपी के केंद्रीय नेताओं को दिया गया।

वरिष्ठ वकील सिब्बल ने कहा कि प्रधानमंत्री जी हमेशा कहते हैं कि उनके कार्यकाल में कोई घोटाला नहीं हुआ। लेकिन जब बीजेपी नेताओं के भ्रष्टाचार के बारे में कुछ सामने आता है तो प्रधानमंत्री जी खामोश हो जाते हैं। उन्होंने कहा, इस डायरी से साफ है कि बीजेपी की केंद्रीय समिति के नेताओं को पैसे दिए गए। सबको मालूम है कि बीजेपी की सेंट्रल लीडरशिप में खुद प्रधानमंत्री जी हैं, वित्त मंत्री हैं, गृह मंत्री हैं, गडकरी जी हैं। बीजेपी की सारी की सारी टॉप लीडरशिप है। हमने पहले भी मांग की थी कि इसमें जांच होनी चाहिए और अब लोकपाल का गठन हो गया है तो लोकपाल की पहली जांच यही मामला होना चाहिए।

साथ ही उन्होंने कहा कि अब सबसे पहले इस मामले पर प्रधानमंत्री को जवाब देना चाहिए। अगर प्रधानमंत्री जी कहते हैं कि येदिरुप्पा ने झूठ बोला है, ये सब फर्जी है तो तुरंत येदियुरप्पा जी को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। सिब्बल ने कहा, “सरकार को खुद येदियुरप्पा जी के खिलाफ एफआईआर करना चाहिए कि उन्होंने झूठ क्यों बोला, उन्होंने ऐसी डायरी में एंट्री क्यों की? अगर वाकई में ये सच है तो ये बहुत ही गंभीर मामला है।

कपिल सिब्बल ने मीडिया को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अगर यही डायरी विपक्षी दल के किसी नेता के पास मिली होती तो तुरंत इंकम टैक्स की रेड हो जाती, तुरंत ईडी पहुंच जाती। और जो बड़े चैनल हैं, वो जोर-शोर से इसे दिखाते और फिर तुरंत कांग्रेस नेतृत्व पर कीचड़ उछालने शुरू कर देते। आज क्योंकि ये कटघरे में खड़े हैं तो कोई इसकी जांच नहीं करेगा, इंकम टैक्स पूछेगा नहीं, ईडी आगे कोई कदम नहीं बढ़ाएगी। उन्होंने कहा कि उनका दावा है कि कोई बड़ा चैनल इस डायरी को नहीं दिखाएगा, क्योंकि उनमें हिम्मत नहीं है। तुरंत फोन आ जाएगा कि दिखा कैसे रहे हो?

सिब्बल ने कहा कि प्रधानमंत्री समेत ये सारे लोग आज चुनाव में खड़े हैं, इसलिए प्रधानमंत्री को इस डायरी के बारे में सार्वजनिक रूप से बताना चाहिए कि ये सच है या नहीं? अगर नहीं है तो तुरंत येदियुरप्पा को गिरफ्तार करना चाहिए। सिब्बल ने कहा, “लोकपाल के पास अधिकार है, इसलिए उन्हें इस मामले पर स्वतः संज्ञान लेते हुए जांच शुरू करनी चाहिए।”

लोकप्रिय