पिछले 5 सालों में बीजेपी सरकार हर मोर्चे पर विफल, उनके ‘नकारेपन’ के चलते हम जीतेंगे झारखंड: कांग्रेस

झारखंड कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष संजय पासवान ने दावा किया कि राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी के ‘नकारेपन’ के चलते हम जीतेंगे। उन्होंने कहा कि बीते पांच साल में बीजेपी सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

झारखंड कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष संजय पासवान ने दावा किया कि राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस-झामुमो-आरजेडी ‘महागठबंधन’ की जीत होगी, क्योंकि लोगों ने देख लिया है कि बीते पांच साल में बीजेपी सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है।

यह पूछे जाने पर कि एक राष्ट्रीय पार्टी होते हुए कांग्रेस झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) जैसी क्षेत्रीय पार्टी से भी कम सीटों पर चुनाव क्यों लड़ रही है, तो संजय पासवान ने कहा, “कांग्रेस का हमेशा से गठबंधन धर्म निभाने में विश्वास रहा है। जहां जिसकी स्थिति मजबूत है, वहां वही पार्टी लड़ रही है। हमारी समान विचारधारा है।”

झारखंड की 81 सदस्यीय विधानसभा के लिए होने जा रहे चुनाव में झामुमो 43 सीटों पर, कांग्रेस 31 और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) 7 सीटों पर लड़ रही है। जिस तरह महाराष्ट्र में शिवसेना-बीजेपी गठबंधन टूटा है, ठीक उसी तरह ऐन चुनाव के वक्त झारखंड में लंबे अरसे से बीजेपी की गठबंधन साझेदार रही ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन (आजसू) ने अकेले चुनाव लड़ने का फैसला लिया है। पार्टी ने 19 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए हैं।

संजय पासवान ने कहा कि आजसू ने एनडीएन से नाता तोड़ लिया है, फिर भी महागठबंधन आजसू को न समर्थन देगा और न उससे लेगा।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में सहयोगी शिवसेना के रवैये के कारण सरकार बनाने का अवसर खो चुकी बीजेपी के सामने सहयोगियों से समस्या लगातार बनी हुई है। झारखंड की 81 विधानसभा सीटों पर 30 नवंबर से पांच चरणों में चुनाव होने वाले हैं। यहां बीजेपी को अपने सबसे पुराने सहयोगियों में से एक जनता दल-यूनाइटेड (जेडीयू) से भी मुकाबला करना होगा। जेडूयी ने राज्य की सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया है। इसके अलावा सहयोगी पार्टी ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन (आजसू) और लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) ने भी राज्य में बीजेपी को आंखें दिखा दी है। बीजेपी की सहयोगी पार्टी आजसू ने 12 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी है। वहीं एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान ने भी 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र के बाद झारखंड में भी बीजेपी की हालत नाजुक, LJP ने तोड़ा नाता, 50 सीटों पर अकेले लड़ने का किया ऐलान

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Published: 18 Nov 2019, 9:00 AM
लोकप्रिय