LPG सिलेंडर के दाम बढ़ने पर कांग्रेस बोली- BJP मालामाल, जनता बेहाल, मोदी राज में महंगाई की आग से जल रहा रसोई का चूल्हा

कांग्रेस नेता सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी मालामाल, जनता बेहाल। बीजेपी राज में सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलिंडर ढाई गुणा हो चुका है, रसोई गैस मध्यम और गरीब की पहुंच से बाहर हो चुकी है। मई 2014 में रसोई गैस की कीमतें 414 रुपये थी, आज इसकी कीमत 999.50 रुपये हो गई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश में लगातार बढ़ती महंगाई ने आम जनता का जीना दूभर कर रखा है। ऊपर से बढ़ते एलपीजी सिलेंडर और पेट्रोल-डीजल की कीमतों ने जनता के सामने और मुश्किलें कढ़ी कर दी हैं। इन मुद्दों पर केंद्र की मोदी सरकार और सत्ताधारी बीजेपी ने चुप्पी साध रखी है। वहीं, मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस लगातार इन मुद्दों को उठा रही है। कांग्रेस ने एलपीजी सिलेंडर के बढ़े दाम को लेकर मोदी सरकार को निशाने पर लिया है।

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने एलपीजी सिलेंडर के बढ़े दाम के मुद्दे पर कई ट्वीट किए हैं और इस मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “मोदी सरकार में रसोई का चूल्हा महंगाई की आग से जल रहा है। आज सुबह महंगाई की एक और किस्त- घरेलू एलपीजी सिलिंडर के दाम भी आज 50 रुपये और बढ़ गए। इससे पहले 22 मार्च को भी 50 रुपये दाम बढ़ाए गए थे। 45 दिनों में एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में 100 रुपये की बढ़ोतरी हो गई है। वहीं, कमर्शियल सिलिंडर के दाम भी 60 दिन में 457.50 रुपये की बढ़ोतरी की गई है।”


कांग्रेस नेता ने आगे लिखा, “बीजेपी मालामाल, जनता बेहाल। बीजेपी राज में सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलिंडर ढाई गुणा हो चुका है, रसोई गैस मध्यम और गरीब की पहुंच से बाहर हो चुकी है। मई 2014 में रसोई गैस की कीमतें 414 रुपये थी और आज इसकी कीमत 999.50 रुपये प्रति सिलेंडर हो गई है। इसमें 585.5 रुपये प्रति सिलेंडर की बढ़ोतरी की गई है। हमारी मांग है की सब्सिडी वाली रसोई गैस की कीमतों को 2014 के स्तर पर लाया जाए।”

सुरजेवाला ने कहा, “मोदी सरकार ने गैस सब्सिडी को खत्म करके गरीब और मध्यम वर्ग पर कुठाराघात किया है। 2012-13 में कांग्रेस सरकार में LPG सब्सिडी 39,558 करोड़ रुपये थी, 2013-14 में कांग्रेस सरकार ने 46,458 करोड़ रुपये गैस सब्सिडी दी, जिसे मोदी सरकार ने 2015-16 में 18 करोड़ रुपये और 2016-17 से जीरो कर दिया।”

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia