हरियाणा: हर मोर्चे पर सरकार की नाकामी पर कांग्रेस का वार, बजट सत्र में अविश्वास प्रस्ताव लाने को तैयार

पूर्व मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के आवास पर हुई बैठक में बजट सत्र में जनता के सवालों पर सरकार को घेरने की रणनीति बनाई गई। हुड्डा ने बताया कि हर क्षेत्र में सरकार की विफलता को उजागर करने के लिए अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाने का फैसला किया गया है।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा के आवास पर हुई बैठक में बजट सत्र में जनता के सवालों पर सरकार को घेरने की रणनीति बनाई गई। (फोटो सौजन्य - @BhupinderShooda)
भूपेंद्र सिंह हुड्डा के आवास पर हुई बैठक में बजट सत्र में जनता के सवालों पर सरकार को घेरने की रणनीति बनाई गई। (फोटो सौजन्य - @BhupinderShooda)
user

धीरेंद्र अवस्थी

हरियाणा विधानसभा के 20 फरवरी से होने वाले बजट सत्र में कांग्रेस बीजेपी-जेजेपी सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाएगी। सरकार की विफलताओं को जनता के सामने रखने के लिए कांग्रेस ने यह ऐलान लिया है। कांग्रेस विधायक दल की महत्वपूर्ण बैठक में मौजूदा सरकार को हर क्षेत्र में नाकाम करार देते हुए पार्टी ने कहा है कि मौजूदा खट्टर सरकार से राज्य का हर वर्ग दुखी है। 

पूर्व मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के चंडीगढ़ आवास पर बुधवार को हुई बैठक में बजट सत्र में जनता के सवालों पर सरकार को घेरने की रणनीति बनाई गई। हुड्डा ने बताया कि हर क्षेत्र में सरकार की विफलता को उजागर करने के लिए अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाने का फैसला किया गया है।

उन्‍होंने कहा कि बजट सत्र के दौरान पार्टी की तरफ से सहकारिता, आयुष्मान, खनन और एफपीओ समेत विभिन्न घोटालों के मुद्दे को उठाया जाएगा। साथ ही प्रदेश में बढ़ती बेरोजगारी, कौशल रोजगार निगम की गड़बड़ियों, युवाओं को युद्ध क्षेत्र इजराल में भेजने, हरियाणा की भर्तियों में बाहरियों को प्राथमिकता देने, भर्ती घोटालों और अग्निपथ योजना जैसे मुद्दों पर भी सरकार से जवाब मांगा जाएगा।

इसके अलावा बढ़ते नशे, एससी, बीसी बच्चों का वजीफा बंद होने, एससी वर्ग की योजनाओं, शिक्षा के गिरते स्तर, किसानों की स्थिति, मौसम की मार, बाढ़ के मुआवजे, परिवार पहचान पत्र की गड़बड़ियों, सड़कों की खस्ता हालत और अल्पसंख्यकों के मुद्दों को भी प्रमुखता के साथ उठाया जाएगा। अलग-अलग मुद्दों को लेकर विधायकों की जिम्मेदारी निर्धारित कर दी गई है। विधायकों की तरफ से सदन में स्थगन व ध्यानाकर्षण प्रस्ताव भी दिए जाएंगे। 


बैठक के बाद भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि आने वाले बजट से जनता को कोई उम्मीद नहीं है। क्योंकि इस सरकार ने प्रदेश पर कर्जा बढ़ाने के अलावा कोई कार्य नहीं किया। ग्रुप-सी की भर्ती में लगे धांधली के आरोपों पर हुड्डा ने कहा कि सरकार को युवाओं द्वारा की जा रही शिकायतों का संज्ञान लेना चाहिए। क्योंकि लगातार भर्तियों में सामने आ रही अनियमितताएं बेहद दुखदायी हैं। 

प्रदेश में बढ़ रही फिरौती और फायरिंग की वारदातों पर बोलते हुए हुड्डा ने कहा कि बीजेपी-जेजेपी सरकार ने कानून व्यवस्था का दिवाला निकाल दिया है। अपराधी बेखौफ हैं और जनता डर के साये में जी रही है। गोहाना में मातूराम जलेबी वाले को मिली फिरौती की धमकी के बाद रोहतक और सांपला में भी ऐसे मामले सामने आ चुके हैं। सांपला में सीता राम हलवाई की दुकान पर बदमाशों द्वारा फायरिंग की गई, जिससे इलाके में लोग डरे हुए हैं। वह खुद सांपला जाएंगे और दुकानदारों व स्थानीय लोगों से मिलेंगे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;