दिल्ली हिंसा के खिलाफ कल राष्ट्रपति से मिलेंगी सोनिया गांधी, वरिष्ठ नेताओं के साथ सौंपेंगी ज्ञापन

दिल्ली में पिछले तीन दिनों से जारी हिंसा के खिलाफ कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी गुरुवार को वरिष्ठ पार्टी नेताओं के साथ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगी। इस मुलाकात के दौरान वह दिल्ली हिंसा के खिलाफ राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपेंगी।

फोटोः @INCIndia
फोटोः @INCIndia
user

नवजीवन डेस्क

राजधानी दिल्ली के उत्तर-पूर्वी जिले में पिछले तीन दिनों से जारी हिंसा और उसे नियंत्रित करने में केंद्र सरकार की विफलता के खिलाफ कांग्रेस ने आज पार्टी मुख्यालय से गांधी स्मृति तक मार्च निकालने का ऐलान किया है। वहीं कल कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में वरिष्ठ कांग्रेस नेता राष्ट्रपति भवन जाएंगे और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात कर उन्हें एक ज्ञापन सौंपेंगे।

बता दें कि पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में आज ही दोपहर में राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकाला जाना था, लेकिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के किसी कार्यक्रम में व्यस्त रहने के कारण इसे आज स्थगित कर दिया गया। इस बारे में जानकारी देते हुए कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि “कांग्रेस आज एक मार्च निकालने वाली थी और राष्ट्रपति को एक ज्ञापन सौंपने वाली थी, लेकिन उन्होंने कल का समय देते हुए बताया कि आज वह उपलब्ध नहीं रहेंगे। ऐसे में उनके पद का सम्मान करते हुए हमने अपना मार्च कल निकालने का फैसला किया है।”

वहीं दिल्ली हिंसा के बीच आज हुई कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली के हालात पर चिंता जताते हुए कहा कि रविवार से हो रही लगातार दर्दनाक घटनाओं के पीछे सोची समझी साजिश है। यह सब कुछ बीजेपी नेताओं के भड़काऊ बयान देने की वजह से हुआ है और दिल्ली पुलिस द्वारा जानबूझकर कार्रवाई नहीं करने की वजह से अब तक 20 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी ही। उन्होंने कहा कि इसके लिए सीधे तौर पर गृह मंत्री अमित शाह जिम्मेदार हैं। उन्हें इसकी जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए।

दिल्ली की आम आदमी पार्टी की केजरीवाल सरकार को भी दिल्ली हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि इसमें राज्य सरकार की भी पूरी जिम्मेदारी बनती है। साथ ही सोनिया गांधी ने कांग्रेस पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि वे सभी प्रभावित इलाकों में जाएं और पीड़ितों से मिले। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे और पीड़ितों की हर संभव मदद करेंगे।

लोकप्रिय