कांग्रेस ने उत्तराखंड में राजनीतिक अस्थिरता को लेकर मोदी सरकार को बताया जिम्मेदार, सत्ता के लिए भूखे होने का लगाया आरोप

पीएम मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पर हमला बोलते हुए सुरजेवाला ने कहा, "वे उत्तराखंड में राजनीतिक अस्थिरता के लिए जिम्मेदार हैं, क्योंकि पिछले साढ़े चार साल में दो मुख्यमंत्री बदले गए हैं।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के इस्तीफा देने के एक दिन बाद, कांग्रेस ने शनिवार को राज्य में राजनीतिक अस्थिरता को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा है। पार्टी ने बीजेपी पर सत्ता के लिए भूखे होने का आरोप लगाया।

सुरजेवाला ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "2017 में, बीजेपी ने उत्तराखंड में सरकार बनाई। लेकिन राज्य के विकास के लिए काम करने के बजाय वे सत्ता के भूखे हो गए और पिछले साढ़े चार साल में दो मुख्यमंत्री बदले गए।" तीरथ सिंह के इस्तीफे के बाद, बीजेपी अब दिन में एक और नए मुख्यमंत्री का चयन करने के लिए तैयार है।

सुरजेवाला ने कहा कि उत्तराखंड में मुख्यमंत्रियों की अदला-बदली का खेल चल रहा है। पीएम मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पर हमला बोलते हुए सुरजेवाला ने कहा, "वे उत्तराखंड में राजनीतिक अस्थिरता के लिए जिम्मेदार हैं, क्योंकि पिछले साढ़े चार साल में दो मुख्यमंत्री बदले गए हैं।"


उन्होंने कहा, "उत्तराखंड की देवभूमि ऐतिहासिक है। उत्तराखंड की देवभूमि देश की संस्कृति और संस्कार की द्योतक है। उत्तराखंड की देवभूमि ने हमेशा इस देश को आध्यात्म, संस्कार, संस्कृति, प्रगति और विकास का पाठ पढ़ाया है। उस उत्तराखंड की देवभूमि में सत्ता लोलुपता, अराजनीतिक अस्थिरता, सत्ता की मलाई बांटने की होड़, रोज बदलने वाले मुख्यमंत्रियों की कुर्सियां और बीजेपी के नेतृत्व की नाकामी का रोजमर्रा का उदाहरण बनता जा रहा है। 2017 में एक प्रचंड बहुमत के साथ उतराखंड के लोगों ने बीजेपी की सरकार का गठन किया, पर 5 साल में उतराखंड की देवभूमि की सेवा करने की बजाय, विकास और प्रगति की गाथा गढ़ने की बजाय मात्र सत्ता की मलाई बांटने के वितरण का धंधा किया।"

उन्होंने आगे कहा, "राजनीतिक अस्थिरता पैदा करने के लिए बीजेपी मशहूर है। दिल्ली में भी उन्होंने एक ही विधानसभा में पहले मदन लाल खुराना जी को मुख्यमंत्री बनाया फिर बदलकर साहब सिंह वर्मा जी को बनाया फिर सुषमा स्वराज जी को बनाया।"

उन्होंने आगे कहा, "सत्ता की लोलुपता और बन्दरबांट, उतराखंड की देवभूमि के खनिज संसाधनों का दोहन केवल इसी बीजेपी सरकार ने किया है। बीजेपी का शासन अब शर्मसार हो चुका है। वह पूरी तरह से नैतिक संवैधानिक अधिकार खो बैठे हैं।"

उन्होंने कहा कि बीजेपी ने उत्तराखंड में पहले भी चार मुख्यमंत्रियों को बदला था। बीजेपी द्वारा मुख्यमंत्री बदलने के अन्य उदाहरणों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी ने दिल्ली, मध्य प्रदेश और कर्नाटक में पहले भी मुख्यमंत्री बदला था। सुरजेवाला ने आगे कहा कि बीजेपी ने राज्य पर शासन करने के लिए नैतिक आधार खो दिया है। उनकी टिप्पणी रावत द्वारा देर रात उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य को अपना इस्तीफा सौंपे जाने के बाद आई है।
रावत ने रात करीब 11.15 बजे राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा। उनके साथ उत्तराखंड भाजपा अध्यक्ष मदन कौशिक भी थे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 03 Jul 2021, 12:23 PM