मध्य प्रदेशः चुनाव तारीखों का कांग्रेस ने किया स्वागत, राहुल गांधी कल शहडोल में करेंगे विशाल जनसभा

रागिनी नायक ने कहा कि कांग्रेस को विश्वास है कि एक विजन और दूसरी ओर टेलीविजन वाले नेता के बीच होने वाले इस चुनाव में जागरूक मतदाता वचनबद्धता, वास्तविक विकास, भयरहित प्रदेश और भ्रष्टाचार के खिलाफ एक सशक्त आवाज के रूप में अपनी ऐतिहासिक उपस्थिति दर्ज कराएगा।

मध्य प्रदेश चुनाव तारीखों का कांग्रेस ने किया स्वागत, राहुल गांधी कल शहडोल में करेंगे विशाल जनसभा
मध्य प्रदेश चुनाव तारीखों का कांग्रेस ने किया स्वागत, राहुल गांधी कल शहडोल में करेंगे विशाल जनसभा
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ. रागिनी नायक और मध्य प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष के.के. मिश्रा ने आज भोपाल में प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मध्य प्रदेश सहित पांच राज्यों में आज से लागू बहुप्रतिक्षित आदर्श आचार संहिता का स्वागत करते हुए उम्मीद जताई कि लोकतंत्र के सभी महत्वपूर्ण स्तंभ अपनी पूर्ण ईमानदारी और निष्पक्षता से आदर्श आचार संहिता का पालन कर प्रदेश में एक संवैधानिक और लोकतांत्रिक सरकार के निर्माण में सहयोग करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि इसके लागू होने के बाद प्रदेश में व्याप्त भ्रष्टाचार, अत्याचार, अनाचार और भय का वातावरण समाप्त होने के साथ ही एक वचनबद्ध सरकार के निर्माण का मार्ग प्रशस्त होगा।

दोनों नेताओं ने बताया कि 10 अक्टूबर को दोपहर 12 बजे शहडोल जिले के ब्यौहारी में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कांग्रेस की ऐतिहासिक जनसभा को संबोधित करेंगे। चुनावी राज्य में राहुल गांधी की यह दूसरी आमसभा होगी, लेकिन चुनाव तारीखों के ऐलान के बाद पहली जनसभा होगी। इसके पहले वे शाजापुर जिले के पोलायकलां में अपनी पहली जनसभा को संबोधित कर चुके हैं। इस आमसभा में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ, प्रभारी महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला सहित प्रदेश के अन्य वरिष्ठ नेतागण भी हिस्सा लेंगे।

बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए रागिनी नायक ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने पूर्व के 16 वर्षीय कार्यकाल में 22 हजार घोषणाएं की, 2020 में एक खरीदी हुई सरकार के मुखिया होने के बाद 3 जुलाई 2023 तक 2715 घोषणाएं कीं, जो आचार संहिता लगने के वक्त तक जारी थी। मुख्यमंत्री को यह बताना चाहिए कि इन घोषणाओं में कितनी घोषणाएं जमीन पर दिखाई दीं और यदि नहीं दिखाई दे रही हैं तो क्या यह एक घोष्णावीर मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश की जागरूक जनता के साथ किया गया राजनैतिक धोखा और अक्षम्य अपराध नहीं है?

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि आदर्श आचार संहिता प्रभावशील होने के बाद मध्य प्रदेश में होने जा रहा विधानसभा का चुनाव एक वचनबद्ध पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दूसरे घोषणावीर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बीच है। कांग्रेस को विश्वास है कि एक विजन और दूसरे टेलीविजन वाले नेता के बीच होने वाले इस चुनाव में जागरूक मतदाता वचनबद्धता, वास्तविक विकास, भयरहित प्रदेश और भ्रष्टाचार के खिलाफ एक सशक्त निर्वाचन के रूप में अपनी ऐतिहासिक उपस्थिति दर्ज कराएगा।


रागिनी नायक ने कहा कि 17 नवम्बर को जनता सिद्ध करने जा रही है शिवराज सिंह सरकार की उल्टे पांव भागने को तैयार है। आज चुनावी बिगुल बजते ही बीजेपी और शिवराज सिंह जी की विदाई का उद्घोष हो गया है। जनता पंजे का बटन दबाने के लिए, कांग्रेस की सरकार बनाने के लिए, कमलनाथ जी को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाने के लिए, मध्य प्रदेश में जनकल्याण, सामाजिक न्याय और विकास की नयी बयार बहाने के लिए तैयार बैठी है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि चाहे ओपिनियन पोल हो, या बीजेपी के आंतरिक सर्वेक्षण जिनमें पता लगाया जा रहा है कि सबसे कम वोटों से कौन हारेगा, चाहे शिवराज सिंह जी के सहानुभूति बटोरने वाले भाषण हों या ऐन चुनाव से पहले की गई झूठी घोषणाएं, चाहे डेमेज कंट्रोल के लिए केंद्रीय राजनीति कर रहे नेताओं को चुनावी दंगल में उतारने का पासा पलटना हो, या टिकिट कटने पर भाजपाईयों के उग्र विरोध के स्वर, चाहे जन आक्रोश यात्रा की सफलता हो या भारत जोड़ो यात्रा में मिला अपार स्नेह- सब यही ईशारा कर रहे हैं कि मध्य प्रदेश में हवा का रूख बदल चुका है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि नौजवानों को जो अधिकार मिलना चाहिए वो व्यापमं, पटवारी घोटाला खा गया, महिलाओं को जो संविधान सम्मान, सुरक्षा, सशक्तिकरण का अधिकार देता है, प्रदेश में 18 बलात्कार जो रोज होते हैं, उसने पर्दाफाश कर दिया, आत्महत्या की कगार पर पहुंचता हुआ किसान, उसके अधिकार इस प्रदेश में लापता हैं। वहीं 48 लाख किसान ऐसे हैं, सोयाबीन की फसल चौपट हो जाती है और उनके पास दो जून की रोटी नहीं है और सरकार सो रही है। वो आदिवासी उनके अधिकार भी सरकार खा गई, जिनके 3 लाख 22 हजार पट्टे निरस्त कर दिये, जिनके मुंह पर इनके कार्यकर्ता पेशाब करते हैं। हर संवैधानिक अधिकार का क्षरण किया और आज इनकी इतनी जुर्रत हो गई कि ये बाबा साहब भीमराव अंबेडकर जी की तस्वीर तक पर प्रहार करते हैं।

रागिनी नायक ने कहा कि आज शिवराज सिंह का कार्यकाल समाप्त हुआ, अब कभी दोबारा नहीं आयेगा और अब इस्तीफा क्या, जनता अब जोरदार तमाचा ऐसी सरकार के मुंह पर लगाने वाली है, जिसके अधिकारों को, जिसके हक और हूकूम, सुख और चैन को ये सरकार खा गई हो। कांग्रेस पार्टी, पीसी. शर्मा, के.के. मिश्रा, मैं या सुरेन्द्र राजपूत जी महत्वपूर्ण नहीं हैं, पर महिलाओं और दलितों के अधिकार महत्वपूर्ण हैं, जिनकी रक्षा कांग्रेस पार्टी मरते दम तक करती रहेगी। अंत में उन्होंने कहा कि इस अपेक्षा के साथ कि चुनाव आयोग निष्पक्षता की हर कसौटी पर खरा उतरेगा। लोकतंत्र के सबसे बड़े जन पर्व की सभी प्रदेशवासियों को बधाई देती हूं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;