कांग्रेस का तंज- हैरानी है कि साहेब को सत्यपाल जी के पीछे CBI छोड़ने में 10 दिन कैसे लग गए?

कांग्रेस प्रवक्ता ने आगे कहा, सत्यपाल मलिक ने स्पष्ट तौर पर हाल में दिए साक्षात्कार में खुलासा किया कि यह हमला खुफिया विफलता तथा सुरक्षा में चूक के कारण हुआ। यदि विमान मुहैया कराए जाते तो जवानों की शहादत को रोका जा सकता था।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस ने पुलवामा हमले और जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक के खुलासों को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि इस बात से हैरानी हुई कि सरकार ने पुलवामा हमले से जुड़ी नई जानकारी के बारे में अभी तक कुछ भी नहीं बोला है। कांग्रेस नेता ने कहा है कि पुलवामा हमले पर जम्मू-कश्मीर के तत्कालीन राज्यपाल सत्यपाल मलिक के हाल के खुलासे से जो तथ्य सामने आए हैं, वे हैरान करते हैं और देशवासियों को उम्मीद थी कि सरकार इसका जवाब देगी लेकिन आश्चर्य की बात है कि मोदी सरकार ने इस पर चुप्पी साध ली है। पवन खेड़ा ने कहा कि मलिक ने खुलासा किया है कि श्रीनगर भेजने के लिए यदि जवानों को पांच विमान मुहैया कराए जाते तो उन्हें शहादत से बचाया जा सकता था।

कांग्रेस प्रवक्ता ने आगे कहा, सत्यपाल मलिक ने स्पष्ट तौर पर हाल में दिए साक्षात्कार में खुलासा किया कि यह हमला खुफिया विफलता तथा सुरक्षा में चूक के कारण हुआ। यदि विमान मुहैया कराए जाते तो जवानों की शहादत को रोका जा सकता था, लेकिन सरकार ने विमान देने से इनकार कर दिया। खेड़ ने कहा, खुलासे में यह भी साफ हुआ है कि 2019 में 14 फरवरी की शाम को जब प्रधानमंत्री जी को फोन पर सत्यपाल मलिक जी ने बताया कि यह लापरवाही और चूक थी जिसके चलते हमारे जवान शहीद हुए। प्रधानमंत्री जी ने उन्हें कहा-तुम चुप रहो। यह कोई और चीज है।


उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले को लेकर मलिक ने इतना बड़ा खुलासा किया है और इस खुलासे के बाद देशवासियों को उम्मीद थी कि सरकार की तरफ से कोई प्रतिक्रिया आएगी, लेकिन आश्चर्य की बात यह है की मोदी सरकार ने इस मामले में पूरी तरह से चुप्पी साध ली है।

पूरा देश इंतजार कर रहा है कि पुलवामा हमले पर सत्यपाल मलिक जी ने जो खुलासा किया, उस पर सरकार कुछ बोले। लेकिन मोदी सरकार चुप है। हालांकि, हैरानी है कि साहेब को सत्यपाल जी के पीछे CBI छोड़ने में 10 दिन कैसे लग गए? कांग्रेस प्रवक्ता ने तंज करते हुए कहा, 'मलिक के इस खुलासे के बाद से लग रहा था कि उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। हालांकि, हैरानी है कि ‘साहेब’ को सत्यपाल जी के पीछे सीबीआई छोड़ने में 10 दिन कैसे लग गए।

मलिक ने जब प्रधानमंत्री से गोवा के भ्रष्टाचार पर बात रखी तो एक्शन गोवा के मुख्यमंत्री पर नहीं बल्कि मलिक जी पर हुआ। उन्होंने कहा, जब सत्यपाल जी ने राममाधव का नाम लिए बिना 2021 में भ्रष्टाचार की बात रखी, तब भी सीबीआई ने पूछताछ मलिक जी से की। दरअसल अब यह संदेश सीबीआई के मार्फत दिया जा रहा है कि-तुम चुप रहो।


कांग्रेस नेता ने कहा, 'इस सरकार के नौ साल जिस तरह से गुजरे हैं, जिस तरह की नीतियां बनाई गई हैं; ऐसे में कई बातें हैं जो सरकार छिपाना चाहती है लेकिन अब कई लोग खुलकर सामने आ रहे हैं और ये बातें बताना चाहते हैं। आने वाले दिन लोकतंत्र के लिए अच्छे होने वाले हैं।'

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;