नूपुर के बयान पर बवाल: हावड़ा जा रहे बंगाल बीजेपी प्रमुख गिरफ्तार, तनावपूर्ण इलाकों में जाने की कर रहे थे कोशिश

पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को शनिवार दोपहर उस समय गिरफ्तार कर लिया गया, जब वह हावड़ा जा रहे थे, जहां पिछले कुछ दिनों से बीजेपी के दो निलंबित प्रवक्ताओं द्वारा पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ की गई टिप्पणी को लेकर तनाव चल रहा है।

फोटो: ANI
फोटो: ANI
user

नवजीवन डेस्क

पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को शनिवार दोपहर उस समय गिरफ्तार कर लिया गया, जब वह हावड़ा जा रहे थे, जहां पिछले कुछ दिनों से बीजेपी के दो निलंबित प्रवक्ताओं द्वारा पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ की गई टिप्पणी को लेकर तनाव चल रहा है। शनिवार की सुबह पुलिस ने मजूमदार को कोलकाता के उत्तरी बाहरी इलाके न्यू टाउन में उनके आवास से बाहर नहीं निकलने दिया। हालांकि, काफी बहस के बाद वह हावड़ा जिले के तनावपूर्ण इलाकों में दौरे के लिए अपने घर से निकले।

लेकिन जैसे ही उनका वाहन कोलकाता और हावड़ा के बीच मुख्य संपर्क बिंदु विद्यासागर सेतु पर टोल प्लाजा पर पहुंचा, हावड़ा पुलिस कमिश्नरेट की एक बड़ी टीम ने उन्हें रोक लिया। पुलिस ने मजूमदार को सूचित किया कि चूंकि हावड़ा जिले के तनावपूर्ण इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है, इसलिए उन्हें वहां जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

मजूमदार ने पुलिस से बहस करना शुरू कर दिया लेकिन जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया और कोलकाता पुलिस मुख्यालय के केंद्रीय लॉक-अप में ले जाया गया। बाद में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कोलकाता पुलिस मुख्यालय के बाहर धरना दिया।

इस घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए, पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी ने कहा कि जिस तरह से राज्य के बीजेपी नेताओं को हावड़ा जाने से रोका जा रहा है, उससे पता चलता है कि राज्य प्रशासन कुछ छिपा रहा है।

इस बीच, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने भी हावड़ा जिले में हिंसक विरोध प्रदर्शन को लेकर राज्य सरकार की खिंचाई की है। राज्यपाल ने ट्वीट किया, "9 मई से बिगड़ती कानून-व्यवस्था की स्थिति से चिंतित हूं। निष्क्रिय पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव, बंगाल पुलिस और कोलकाता पुलिस दुर्भाग्यपूर्ण रूप से कानून का उल्लंघन करने वालों की आपराधिकता का समर्थन करती है।"

उन्होंने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से अपील करते हुए कहा कि कानून तोड़ने वालों से सख्ती से निपटा जाए और इस घटना में शामिल लोगों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार किया जाए।

राज्य मंत्री और तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने कहा कि ऐसे समय में जब स्थिति नियंत्रण में आ रही है, बीजेपी नेता हावड़ा जाने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि वहां और तनाव पैदा किया जा सके। चटर्जी ने कहा, "पुलिस और प्रशासन ने उन्हें बीच में ही रोक कर सही काम किया है।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia