चारा घोटाले में लालू के साथ सजायाफ्ता पूर्व सांसद आरके राणा का निधन, जेल में लंबे समय से चल रहे थे बीमार

राणा को डोरंडा कोषागार से 139 करोड़ रुपये की अवैध निकासी के केस में कोर्ट ने बीते 21 फरवरी को 5 साल जेल और 60 लाख रुपये जुर्माने की सजा दी थी। इसी केस में लालू यादव को भी 5 साल की सजा हुई है। देवघर कोषागार से अवैध निकासी मामले में भी उन्हें सजा हो चुकी थी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

चारा घोटाले में लालू यादव के साथ सजायाफ्ता पूर्व सांसद रबींद्र कुमार राणा का एम्स दिल्ली में इलाज के दौरान बुधवार को निधन हो गया। वह जेल में लंबे समय से बीमार चल रहे थे, जिसके बाद हालत बिगड़ने पर एक दिन पहले मंगलवार को रिम्स रांची से एयर एंबुलेंस के जरिए एम्स ले जाया गया था। उन्होंने अपराह्न् लगभग साढ़े तीन बजे आखिरी सांस ली।

बताया जा रहा है कि आरके राणा की मृत्यु मल्टी ऑर्गन फेल्योर की वजह से हुई है। बीते 15 मार्च को रांची के होटवार जेल में तबीयत बिगड़ने के बाद राणा को रांची स्थित रिम्स में दाखिल कराया गया था। यहां उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। मेडिकल बोर्ड ने उनकी बिगड़ती स्थिति को देख उन्हें मंगलवार को एम्स के लिए रेफर किया था।


आरके राणा को रांची के डोरंडा कोषागार से 139 करोड़ रुपये की अवैध निकासी के मामले में अदालत ने बीते 21 फरवरी को दोषी ठहराया था। उन्हें पांच साल की कैद और 60 लाख रुपये के जुर्माने की सजा दी गई थी। इसी मामले में लालू प्रसाद यादव को भी पांच साल की सजा हुई है। इसके पहले देवघर कोषागार से 89 करोड़ की अवैध निकासी के मामले में भी उन्हें सजा हो चुकी थी।

आर के राणा 14वीं लोकसभा में बिहार के खगड़िया संसदीय क्षेत्र से राष्ट्रीय जनता दल की ओर से सांसद रह चुके थे। वह बिहार सरकार में मंत्री भी रह चुके थे। आर के राणा को लालू यादव का बेहद करीबी माना जाता था। हालांकि, राणा का राजनीतिक करियर बहुत लंबा-चौड़ा नहीं रहा और चारा घोटाले का आरोप लगने के बाद एक तरह से डूब गया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;