बिहार में बढ़ रहा कोरोना का कहर! राज्य में चौथी मौत, मरीजों की संख्या 500 के करीब

कोरोना संक्रमित यह मरीज पहले से कैंसर से पीड़ित था और उसका इलाज भी चल रहा था। वह 28 अप्रैल को मुंबई से सीतामढ़ी लौटा था और 30 अप्रैल को नालंदा मेडिकल कलेज अस्पताल में कोरोना संक्रमित होने पर भर्ती हुआ था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश भर में कोरोना वायरस का कहर जारी है। इस बीच बिहार में भी लगातार कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं, जिससे लोगों के साथ स्वास्थ्य विभाग और राज्य सरकार की चिंता बढ़ गई है। बिहार में शनिवार को कोरोना संक्रमित एक और मरीज की मौत हो गई, जिससे राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या चार तक पहुंच गई। बिहार के स्वास्थ्य विभाग के सचिव संजय कुमार ने शनिवार को बताया कि पटना के कोविड अस्पताल यानी नालंदा मेडिकल कलेज अस्पताल (एनएमसीएच) में भर्ती कोरोना संक्रमित एक मरीज की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि मृतक सीतामढ़ी का रहने वाला था और उसकी उम्र 45 साल थी।

उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमित यह मरीज पहले से कैंसर से पीड़ित था और उसका इलाज भी चल रहा था। वह 28 अप्रैल को मुंबई से सीतामढ़ी लौटा था और 30 अप्रैल को नालंदा मेडिकल कलेज अस्पताल में कोरोना संक्रमित होने पर भर्ती हुआ था।


बिहार में कोरोना से पहली मौत 22 मार्च को पटना एम्स में हुई थी। मृतक मुंगेर का रहने वाला था और वह खाड़ी देश से लौटा था। वह पहले से किडनी से जुड़ी बीमारी से पीड़ित था। राज्य में कोरोना संक्रमित दूसरा मृतक वैशाली जिले का रहने वाला था। वायरस से संक्रमित तीसरे मरीज की मौत शुक्रवार को एनएमसीएच में हुई थी।

बिहार के 38 में से 30 जिले कोरोना संक्रमण से प्रभावित है। बिहार में अब तक 475 कोरोना वायरस संक्रमितों की पुष्टि हो चुकी है। इसमें 364 केस सक्रिय हैं। 98 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। अब तक राज्य में कुल चार लोगों की मौत हो चुकी है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia