केरल और असम में कोरोना के मामलों ने बढ़ाई चिंता, मंडाविया जल्द समीक्षा के लिए दोनों राज्यों का करेंगे दौरा

पूर्वोत्तर क्षेत्र में भी कोरोना के बढ़ते मामलों की समीक्षा के लिए मनसुख मंडाविया 17 अगस्त को असम का दौरा करेंगे और स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। उनके साथ राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र के निदेशक और स्वास्थ्य मंत्रालय के कई बड़े अधिकारी भी होंगे।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

पूरे देश में कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर का प्रकोप कम होने के बावजूद दक्षिणी राज्य केरल और पूर्वोत्तर राज्य असम में लगातार नए मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया 16 अगस्त को केरल और 17 अगस्त को असम का दौरा कर हालात की समीक्षा करेंगे। दौरे पर जाएंगे।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया के केरल में 16 अगस्त को मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन से मिलने की उम्मीद है और इस दौरान वह राज्य के स्वास्थ्य मंत्री और महामारी के प्रबंधन में लगे अन्य अधिकारियों के साथ बैठक भी करेंगे। उनके साथ राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) के निदेशक और स्वास्थ्य मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी होंगे।


केरल में कोविड का प्रकोप जारी है और शुक्रवार को राज्य में 20,000 से अधिक नए मामले सामने आए थे। मुख्यमंत्री द्वारा जारी एक बयान में कहा गया कि पिछले 24 घंटों में 1,42,501 नमूनों को परीक्षण के लिए भेजे जाने के बाद 20,452 नए नए मामले दर्ज किए गए हैं। उन्होंने बयान में कहा कि दैनिक कोविड टेस्ट पॉजिटिविटी रेट (टीपीआर) 14.35 प्रतिशत दर्ज की गई है। यह लगातार तीसरी बार है कि जब राज्य में यह 14 प्रतिशत से ऊपर दर्ज की गई है। कुल सक्रिय मामलों की संख्या 1,80,000 है।

वहीं, हाल के दिनों में पूर्वोत्तर क्षेत्र में भी कोविड के मामले बढ़ रहे हैं। इस बीच मंडाविया 17 अगस्त को अपनी असम यात्रा के दौरान स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ स्थितियों की जमीनी समीक्षा करेंगे। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) ने एक बुलेटिन में कहा कि असम में शुक्रवार को कोविड-19 के कुल मामलों की संख्या 5,78,733 पहुंच गई है। यहां शुक्रवार को 763 लोग संक्रमित पाए गए, जबकि 20 लोगों ने संक्रमण के कारण अपनी जान गंवा दी। इसके बाद अब राज्य में संक्रमण की वजह से मरने वालों की संख्या 5,471 हो गई है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia