बजट सत्र से पहले संसद में कोरोना विस्फोट, फिर 300 से ज्यादा कर्मचारी निकले संक्रमित, कुल 708 स्टाफ पॉजिटिव

मंगलवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने देश में कोविड मामलों में हालिया बढ़ोतरी के आलोक में स्वास्थ्य सुरक्षा संबंधी उपायों का जायजा लेने के लिए संसद भवन परिसर का निरीक्षण किया। इस दौरान बिरला ने अधिकारियों को आगामी सत्र को लेकर कई अहम निर्देश दिए।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बजट सत्र से ठीक पहले संसद के 300 से अधिक कर्मचारी 9 से 12 जनवरी के बीच कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इससे पहले 9 जनवरी तक, संसद के 400 से अधिक कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए थे। सूत्रों ने बताया कि अब तक, लगभग 718 संसद कर्मचारी वायरस की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 204 राज्यसभा सचिवालय से हैं, जबकि शेष लोकसभा सचिवालय और संबद्ध सेवाओं से हैं।

इस महीने के पहले सप्ताह में रैंडम टेस्टिंग के दौरान 400 से अधिक संसद स्टाफ संक्रमित पाए गए थे। मंगलवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने देश में कोविड-19 मामलों में हालिया बढ़ोतरी के आलोक में स्वास्थ्य सुरक्षा संबंधी उपायों का जायजा लेने के लिए संसद भवन परिसर (पीएचसी) का निरीक्षण किया।


इस दौरान लोकसभा अध्यक्ष ने संसद सदस्यों, लोकसभा और राज्यसभा सचिवालयों के अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए संसद भवन एनेक्सी में स्थापित कोविड-19 परीक्षण सुविधा का दौरा किया और वहां की तैयारियों की समीक्षा की। इस दौरान लोकसभा स्पीकर ने अधिकारियों को आगामी सत्र को लेकर स्वास्थ्य संबंधी कई निर्देश दिए।

सोमवार को राज्यसभा के सभापति और लोकसभा अध्यक्ष ने दोनों सदनों के महासचिवों को आगामी बजट सत्र के सुरक्षित संचालन के लिए उपाय सुझाने का निर्देश दिया था। सूत्रों ने कहा कि राज्यसभा के सभापति और लोकसभा अध्यक्ष दोनों ने महासचिवों को मौजूदा स्थिति में पिछले शीतकालीन सत्र के दौरान किए गए कोविड प्रोटोकॉल की पर्याप्तता की समीक्षा करने और इस संबंध में जल्द से जल्द एक प्रस्ताव प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia