दिल्ली में कोरोना का कहर! सर गंगा राम अस्पताल में 25 कोविड मरीजों ने तोड़ा दम

सर गंगा राम अस्पताल ने शुक्रवार की सुबह एक बयान में कहा कि वेंटिलेटर और बीपैप प्रभावी रूप से काम नहीं कर रहे हैं। आईसीयू और ईडी में मैनुअल वेंटिलेशन की आवश्यकता है। बड़े संकट की संभावना। अन्य गंभीर रूप से बीमार 60 अन्य रोगियों के जीवन पर संकट है। तत्काल हस्तक्षेप की आवश्यकता।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस ने कोहराम मचा रखा है। सर गंगा राम अस्पताल में पिछले 24 घंटों में 25 कोरोना मरीजों की मौत हो गई है। अस्पताल के अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। सर गंगा राम अस्पताल ने गुरुवार शाम को ऑक्सीजन की आपूर्ति की तत्काल आवश्यकता पर जोर दिया था, क्योंकि अस्पतालों में भर्ती किए गए 140 से अधिक गंभीर रोगी वेंटिलेटर और ऑक्सीजन सपोर्ट पर थे।

वहीं, सर गंगा राम अस्पताल के चेयरमैन डॉ.डी.एस राणा ने कहा, “यह गलत खबर है कि कोरोना से जितने भी मरीजों की मृत्यु हुई है वे सब ऑक्सीजन की कमी से हुई। यह पूरी तरह से गलत है, ऐसा नहीं हुआ है। हमारे ICU में पहले ऑक्सीजन दबाव कम हो गया था। उस दौरान हम लोगों ने मैनुअल तरह से ऑक्सीजन दी थी।”

दिल्ली सरकार के प्रयासों से अस्पतालों को गुरुवार देर रात (1 बजे) ऑक्सीजन की आपूर्ति प्राप्त हुई, हालांकि, अस्पतालों ने कहा कि इसे सिर्फ दो मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्राप्त हुआ है, जो अगले कुछ घंटों तक चलेगा। सरकार की ओर से सुबह बया आने के बाद कुछ टैंकर में फिर ऑक्सीजन भेजा गया।

सर गंगा राम अस्पताल ने शुक्रवार की सुबह एक बयान में कहा कि वेंटिलेटर और बीपैप प्रभावी रूप से काम नहीं कर रहे हैं। आईसीयू और ईडी में मैनुअल वेंटिलेशन की आवश्यकता है। बड़े संकट की संभावना। अन्य गंभीर रूप से बीमार 60 अन्य रोगियों के जीवन पर संकट। तत्काल हस्तक्षेप की आवश्यकता। अस्पताल की ओर से जारी किए गए इस बयान के बाद सुबह फिर से ऑक्सीजन भेजा गया।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 23 Apr 2021, 11:02 AM
लोकप्रिय