कोरोना: दिल्ली में लगातार दूसरे दिन 300 से ज्यादा नए केस, जानकार बोले- मई में पीक पर पहुंचने का खतरा, रहें सावधान!

दिल्ली सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, 6 मार्च को दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर 0.60 फीसदी दर्ज हुई, जो करीब 2 महीने बाद सबसे अधिक है। 6 मार्च से पहले 9 जनवरी 2021 को दिल्ली में 0.65 प्रतिशत संक्रमण दर दर्ज हुई थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश की राजधानी दिल्ली में लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। इससे सरकार के साथ आम लोगों की चिंताएं भी बढ़ गई हैं। दिल्ली में लगातार दूसरे दिन कोरोना संक्रमण के 300 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। पिछले 24 घंटे में 53062 लोगों ने कोरोना टेस्ट कराया, जिसमें 321 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। दिल्ली में पिछले एक हफ्ते में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ- अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में भी इजाफा हुआ है।

दिल्ली सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, 6 मार्च को दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर 0.60 फीसदी दर्ज हुई, जो करीब 2 महीने बाद सबसे अधिक है। 6 मार्च से पहले 9 जनवरी 2021 को दिल्ली में 0.65 प्रतिशत संक्रमण दर दर्ज हुई थी। वहीं, दिल्ली में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 1779 हो गई है। वहीं, होम आइसोलेशन में मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 879 तक पहुंच गया है।

दिल्ली में 6 मार्च से पहले 23 जनवरी को सबसे ज्यादा 1880 कोरोना के सक्रिय मरीज दिल्ली में दर्ज हुए थे। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 321 नए मामले सामने आए हैं और एक मरीज की मौत हुई है। 14 जनवरी 2021 को दिल्ली में कोरोना के 340 मामले दर्ज हुए थे। फिलहाल राजधानी में रिकवरी रेट 98 प्रतिशत से ज्यादा है। हालांकि पिछले एक हफ्ते में रिकवरी रेट में 0.9 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। जानकारों की माने तो कोरोना संक्रमण के मामले दिल्ली मई के महीने में पीक पर पहुंच सकता है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय