Getting Latest Election Result...

कोरोनाः महाराष्ट्र में 24 घंटे में रिकॉर्ड तोड़ मामले, बंद हुई तेजस एक्सप्रेस, दिल्ली में भी कल आपात बैठक

रेलवे ने महाराष्ट्र और गुजरात में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस को कल से 30 अप्रैल तक रद्द कर दिया है। गुजरात में भी पिछले 24 घंटें में कोरोना के 2,410 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 9 लोगों की मौत हुई है।

फोटो सौजन्यः सोशल मीडिया
फोटो सौजन्यः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का कहर एक बार फिर तेज होता जा रहा है। पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड तोड़ 43,183 नए कोरोना केस सामने आए हैं। वहीं इस दौरान 249 लोगों की मौत हो गई। एक दिन पहले बुधवार को 39,544 नए मामले सामने आए थे। यह महामारी आने के बाद से एक दिन में अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। हालात को देखते हुए रेलवे ने मुंबई-अहमदाबाद के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस को 30 अप्रैल तक रद्द कर दिया है।

ताजा मामलों के बाद महाराष्ट्र में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 28 लाख 56 हजार 163 पहुंच गई है। अकेले मुंबई में में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 8,646 नए मामले सामने आए हैं। जबकि इस दौरान 18 लोगों की मौत हो गई। वहीं मुंबई में अब तक कोरोना के कुल केसो की संख्या 4,23,360 पहुंच गई है। मुंबई में कोरोना के 55,005 सक्रिय मामले हैं और कुल 11,704 लोगों की अब तक मौत हुई है।

इस बीच मुंबई और गुजरात में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए रेलवे ने अहमदाबाद से मुंबई सेंट्रल के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस को कल से 30 अप्रैल तक रद्द कर दिया है। बता दें कि गुजरात में पिछले 24 घंटें में कोरोना के 2,410 नए मामले सामने आए हैं। जबकि 9 लोगों की मौत हुई है। अब तक राज्य में कोरोना के कुल 3,10,108 मामले सामने आ चुके हैं। जबकि कुल 4,528 लोगों की अब तक मौत हुई है।

इधर राजधानी दिल्ली में भी तेजी से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। दिल्ली में गुरुवार को कोरोना के 2790 नए केस मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, गुरुवार को 9 लोगों की मौत हुई। इसी के साथ दिल्ली में संक्रमितों की कुल संख्या 6,65,220 पहुंच गई है। दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल ने 2 अप्रैल को आपात बैठक बुलाई है। यह बैठक सीएम आवास पर कल शाम 4 बजे होगी, जिसमें स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के साथ संबंधित विभागों के सभी अधिकारी मौजूद रहेंगे।

बताया जा रहा है कि केजरीवाल ने यह बैठक कोरोना की तेज होती लहर से निपटने की कार्ययोजना, कंटेनमेंट जोन, अस्पतालों में बेड प्रबंधन और वैक्सीनेशन आदि की समीक्षा के लिए बुलाई है। इसके लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को कोरोना से निपटने के विस्तृत प्लान के साथ बैठक में आने का निर्देश दिया गया है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 02 Apr 2021, 12:01 AM