बिहार में फिर लौटा कोरोना, गोपालगंज में पिछले 3 दिनों में 3 लोगों की मौत, त्योहारी मौसम में फैल सकता है वायरस

बिहार के प्रवासी लोगों के अक्टूबर और नवंबर के महीनों में दशहरा, दिवाली और छठ पूजा मनाने के लिए आने वाले त्योहारों के मौसम में कोरोना पॉजिटिव मामले अधिक होने की उम्मीद है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

बिहार कोविड-19 की चपेट में वापस लौट रहा है क्योंकि गोपालगंज जिले में पिछले तीन दिनों में तीन लोगों की कोरोना से मौत हुई है। यह जानकारी एक अधिकारी ने दी। तीनों मृतक कोविड पॉजिटिव थे और ऑक्सीजन का स्तर कम होने के कारण उनकी मौत हो गई।

मृतकों में से दो, जो गोपालगंज सदर क्षेत्र के निवासी थे, उन्हें सोमवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टर उनके शरीर के ऑक्सीजन स्तर को नियंत्रित करने में असमर्थ रहा और आखिरकार मंगलवार शाम को उनकी मौत हो गई।

जिले की एक अन्य महिला को भी सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनका ऑक्सीजन लेवल भी कम होने के कारण सदर अस्पताल के डॉक्टरों ने उसे गोरखपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।


गोपालगंज के जिलाधिकारी नवल किशोर चौधरी ने बताया कि जिले में तीन कोरोना के मामले भी सामने आए हैं। उन्हें होम आइसोलेशन के लिए निर्देशित किया गया। चौधरी ने कहा, "जिला प्रशासन ने जिले में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए सभी इंतजाम पूरे कर लिए हैं। हमने जिले के लोगों से अपील की है कि वे कोविड-19 से संबंधित गाइडलाइन का पालन करें और संक्रमण से बचने के लिए पर्याप्त सावधानी बरतें।"

चिकित्सा विशेषज्ञों को संदेह है कि इस साल सितंबर के तीसरे या चौथे सप्ताह से कोरोनावायरस की तीसरी लहर शुरू होने की संभावना है और इसके संकेत उत्तरी बिहार के कुछ जिलों में सामने आ रहे हैं।

गोपालगंज के अलावा, मधुबनी जिले में मंगलवार शाम तक 73 पॉजिटिव मामले सामने आए, जिनमें सोमवार को स्वतंत्र सेनानी एक्सप्रेस ट्रेन में नई दिल्ली से आए 30 यात्री शामिल हैं।

बिहार के प्रवासी लोगों के अक्टूबर और नवंबर के महीनों में दशहरा, दिवाली और छठ पूजा मनाने के लिए आने वाले त्योहारों के मौसम में कोरोना पॉजिटिव मामले अधिक होने की उम्मीद है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia