सावधान! यूपी में तेजी से पैर पसार रहा कोरोना, संक्रमण से 2 की मौत, मेरठ में लगातार तीसरे दिन 1 हजार से ज्यादा केस

लखनऊ की एक महिला और गोंडा की एक अन्य महिला की शनिवार को क्रमश: राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (आरएमएलआईएमएस) और (किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी) केजीएमयू में कोविड-19 के कारण मृत्यु हो गई।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस तेजी से पैर पसार रहा है। कोरोना की तीसरी लहर के दौरान पहली बार इस महामारी से मौतें दर्ज की गई। यहां इस महामारी से दो मौतें हुई हैं। एक मौत लखनऊ में और एक मौत गोंडा में दर्ज की गई। लगभग 200 दिनों के अंतराल के बाद मौतों की सूचना मिली।

लखनऊ की एक महिला और गोंडा की एक अन्य महिला की शनिवार को क्रमश: राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (आरएमएलआईएमएस) और (किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी) केजीएमयू में कोविड-19 के कारण मृत्यु हो गई।

आरएमएलआईएमएस के उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मिलिंद वर्धन ने कहा कि लखनऊ की महिला किडनी संबंधित समस्या से ग्रस्त थी। दूसरी मरीज गोंडा की एक 37 वर्षीय महिला थी जो लीवर की पुरानी बीमारी से पीड़ित थी।

डॉक्टर ने कहा कि 10 दिन पहले जब महिला को भर्ती कराया गया था, तब उसकी हालत गंभीर थी। पॉजिटिव परीक्षण के बाद उसे कोविड वार्ड में स्थानांतरित कर दिया गया था और वह गहन देखभाल सहायता पर थी। सीएमओ कार्यालय के प्रवक्ता योगेश रघुवंशी ने कहा कि नए मामलों में, 69 मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि अन्य होम आइसोलेशन में ठीक हो रहे हैं।


लखनऊ में पिछले 24 घंटों में 63 स्वास्थ्य कर्मियों सहित कम से कम 2,769 और लोगों पॉजिटिव पाए गए हैं। सक्रिय मामलों की संख्या 14,596 हो गई है। 22 दिसंबर से शुरू हुई तीसरी लहर अब तक 15,761 लोगों को संक्रमित कर चुकी है। पिछले 24 घंटों में 365 सहित लगभग 1,165 मरीज ठीक हो चुके हैं। शहर ने आखिरी बार 29 जून, 2021 को कोविड -19 हताहतों की संख्या दर्ज की थी। 20 दिनों में संचरण दर बढ़कर 11 प्रतिशत हो गई है।

वहीं, मेरठ में लगातार तीसरे दिन कोविड-19 के 1000 से अधिक मामले दर्ज किए गए। जिले में बीते 24 घंटे में 1061 नए मामले सामने आए, जिससे शहर में कुल सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 7,777 हो गई। मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डॉ. अशोक तालियान ने बताया कि शनिवार को कुल 8132 सैंपलों की जांच की गई। इसमें कुल 1061 मरीज संक्रमित पाए गए, जिसमें 386 महिलाएं और 675 पुरुष हैं। जबकि 507 मरीजों के स्वास्थ्य में सुधार होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया। अब जिले में कोरोना संक्रमण से ग्रसित कुल्र 7,777 सक्रिय मरीज हैं। इनमें 37 मरीज विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं और 7740 होम आइसोलेशन पर रहकर इलाज करा रहे हैं।

उन्होंने बताया, " सर्वाधिक मामले मेरठ के जयभीमनगर क्षेत्र से आए। शनिवार को फिर से जयभीमनगर में जिले के सर्वाधिक 111 संक्रमित पाए गए। इनमें से 92 नए मरीज और 19 कांटेक्ट ट्रेसिंग में संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा पल्हेड़ा में 106, कंकरखेड़ा में 91, पुलिस लाइन क्षेत्र में 60, ब्रह्मपुरी में 46, नंगलाबट्ट में 44, मलियाना में 37, कैंट में 34, साबुन गोदाम में 33, संजयनगर में 19 संक्रमित मिले हैं।"

कोविड अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डा. तरुण पाल ने बताया कि मेडिकल कालेज में कोविड संक्रमण से ग्रसित 24 मरीज भर्ती हैं। इनमें 2 मरीज वेंटीलेटर, दो बाइपैप और 10 मरीजों को आक्सीजन की जरूरत पड़ रही है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia