कोरोना वायरस: 21 दिनों के लिए पूरा देश लॉकडाउन, उल्लंघन करने पर दो साल तक की जेल, जानें क्या है नियम 

लॉकडाउन के दौरान पूरे देश भर में धारा 144 लागू रहेगी। लॉकडाउन के दौरान नियम और गाइडलाइंस नहीं मानने वाले पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के सेक्शन 51 के तहत कार्रवाई होगी। इसमें सजा और जुर्माने दोनों की बात है।

फोटो: सोसल मीडिया
फोटो: सोसल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते हो जा रहे हैं। कोरोना वायरस के चेन को तोड़ने के लिए पीएम मोदी ने मंगलवार की आधी रात 12 बजे से देश भर में लॉकडाउन घोषित कर दिया है। पीएम मोदी के लॉकडाउन घोषणा के बाद अगर कोई नियमों को तोडता हुआ दिखाई देगा तो उसके ऊपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। आइए जानते हैं लॉकडाउन में क्या है सजा और जुर्माने का प्रावधान।

लॉकडाउन के दौरान पूरे देश भर में धारा 144 लागू रहेगी। लॉकडाउन के दौरान नियम और गाइडलाइंस नहीं मानने वाले पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के सेक्शन 51 के तहत कार्रवाई होगी। इसमें सजा और जुर्माने दोनों की बात है। लॉकडाउन नहीं मानने पर 200 रुपये का जुर्माना और साथ ही 1 महीने की सजा। लेकिन इसकी वजह से कानूनी व्यवस्था में दिक्कत आई, दंगे की स्थिति हुई दो सजा 6 महीने तक के लिए बढ़ जाएगी। साथ ही ऑर्डर में ये भी बताया गया है कि अगर आपके ऑर्डर न मानने से किसी की जान जाती है, खतरा पैदा होता है तो दोषी पाए जाने पर जेल होगी जिसे दो साल तक बढ़ाया जा सकता है।

गृह मंत्रालय के ऑर्डर में यह भी कहा गया है कि अगर कोई कोरोना वायरस से संबंधित कुछ अफवाह फैलाता है, फिर उसे एक साल तक की सजा हो सकती है, साथ ही जुर्माना भी लग सकता है।

वहीं कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए तेलंगाना के सीएम चंद्रशेखर राव सकते में हैं। उन्होंने लॉकडाउन को पालन नहीं करने वालों को कड़ी चेतावनी दी है। उन्होंने कहा है कि अगर लोग लॉकडाउन के दौरान घरों से बाहर निकले तो उनके पास देखते ही गोली मारने का आदेश देने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा। केसीआर ने कहा, “ऐसे हालात मत पैदा कीजिए, जहां सरकार के पास पुलिस को देखते ही गोली मारने का आदेश देने के अलावा कोई विकल्प न बचे।”

गौरतलब है कि कोरोना वायरस से देश भर में मरीजों की संख्या 582 हो गई है। मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में में कोरोना के पांच-पांच नए मामले सामने आए हैं। वहीं गुजरात और राजस्थान में कोरोना वायरस के एक-एक मरीज सामने आए हैं। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को रात 8 बजे जनता को संबोधित किया। इसमें उन्होंने ऐलान किया कि कोरोना वायरस से बचने के लिए देश को 21 दिन के लिए लॉकडाउन किया जा रहा है।

Published: 25 Mar 2020, 11:03 AM
लोकप्रिय