कोरोना वायरस: यूपी के बांदा में संदिग्ध छात्र आइसोलेशन वार्ड में रखा गया, तिरुपति से 27 छात्रों के साथ लौटा था

उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में कोरोनावायरस के पहले संदिग्ध मामले के रूप में एक छात्र को गुरुवार शाम मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। यह संदिग्ध अपने 27 सहपाठियों के साथ तिरुपति से वापस लौटा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के अबतक 11 पॉजिटिव केस सामने आए हैं, इनमें से 10 भारतीय और एक विदेशी नागरिक हैं। इस बीच उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में कोरोनावायरस के पहले संदिग्ध मामले के रूप में एक छात्र को गुरुवार शाम मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। यह संदिग्ध अपने 27 सहपाठियों के साथ तिरुपति से वापस लौटा है। राजकीय मेडिकल कॉलेज के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) डॉ सुनील आर्या ने शुक्रवार को बताया कि गुरुवार शाम एक 28 वर्षीय छात्र को कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका में यहां बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। वह अपने अन्य 27 सहपाठी छात्रों के साथ एक मार्च को तिरुपति खेलने गया था और आठ मार्च को सभी छात्रों के साथ बांदा वापस लौटा है।

उन्होंने बताया कि वह जुकाम, बुखार, खांसी और सांस लेने की तकलीफ पर जिला अस्पताल गया था, जहां से कोरोनावायरस के संक्रमण की आशंका पर उसे यहां आइसोलेशन वार्ड में अलग भर्ती किया गया है।


सीएमएस ने बताया कि उसके नमूने जांच के लिए बाहर भेजे गए हैं। जांच रिपोर्ट एक-दो दिन में आने के बाद स्थिति स्पष्ट होगी। एक सवाल के जवाब में आर्या ने कहा कि अभी उसके अन्य सहपाठी छात्रों की कोई जांच नहीं की गई है। यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि कथित संक्रमित छात्र कितने लोगों के संपर्क में आया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia