कोरोना के नए वैरिएंट XE का भारत में दस्तक, मुंबई में मिला पहला केस, कप्पा वैरिएंट का भी एक मामला आया सामने

देश में बुधवार को कोविड-19 के एक्सई वैरिएंट का पहला मामला सामने आया। नए वैरिएंट का पहला मामला मायानगरी मुंबई में देखने को मिला है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

देश में बुधवार को कोविड-19 के एक्सई वैरिएंट का पहला मामला सामने आया। नए वैरिएंट का पहला मामला मायानगरी मुंबई में देखने को मिला है। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के एक अधिकारी ने बुधवार को कहा कि बॉलीवुड हस्तियों के साथ काम करने वाली एक महिला कॉस्ट्यूम डिजाइनर कोविड एक्सई वैरिएंट से संक्रमित पाई गई हैं, जो कि देश में इस वैरिएंट का पहला मामला है।

पहली बार ब्रिटेन में पाया गया, एक्सई वैरिएंट ओमिक्रॉन वैरिएंट के उपभेदों का एक उत्परिवर्तन (म्यूटेशन ऑफ स्ट्रेन) है और शुरुआती संकेत बताते हैं कि यह अन्य ओमिक्रॉन म्यूटेशन की तुलना में लगभग 10 प्रतिशत अधिक तेजी से फैल सकता है।

50 वर्षीय कॉस्ट्यूम डिजाइनर, जिनकी पहचान का खुलासा नहीं किया गया है, एक फिल्म शूटिंग दल का हिस्सा थीं, जो 10 फरवरी को दक्षिण अफ्रीका से यहां आया था। उनका कोई पिछला यात्रा इतिहास नहीं था और प्रोटोकॉल के अनुसार, उन्होंने नियमित परीक्षण कराया था और वह कोविड-19 निगेटिव ही पाई जा रहीं थीं।


हालांकि बाद में, सबअर्बन डायग्नोस्टिक्स द्वारा नियमित परीक्षण के दौरान, महिला 2 मार्च को पॉजिटिव पाई गईं। महिला वैक्सीन की दोनों खुराक प्राप्त कर चुकी है।

पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्हें तुरंत बांद्रा के होटल ताज लैंड्स एंड में क्वारंटीन कर दिया गया है। हालांकि स्पाइस हेल्थ द्वारा 24 घंटे के बाद किए गए उनके एक और टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव आई। इसके बाद, उनकी रिपोटरें के विश्लेषण से पता चला कि वह कोविड एक्सई वैरिएंट से संक्रमित हैं। उनकी स्थिति सामान्य है और उन्हें कोई लक्षण भी नहीं हैं।

यह स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा अपने सीरो सर्वेक्षण के हिस्से के रूप में परीक्षण किए गए 230 नमूनों में से एक था। कोविड के कापा वैरिएंट के भी एक मामले का पता चला है। नमूनों की जांच में ये मामले सामने आए। अन्य नमूनों में ओमिक्रोन वैरियंट पाया गया है, जबकि एक कापा और दूसरा एक्सई वैरिएंट पाया गया है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, नया एक्सई वैरिएंट दो अन्य ओमिक्रोन वैरिएंट्स, बीए.1 और बीए.2 का एक म्यूटेंट हाईब्रिड है और वैश्विक स्तर पर फैल रहे मामलों के लिए जिम्मेदार है।
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि नया म्यूटेंट ओमिक्रॉन के बीए.2 सब-वैरिएंट की तुलना में लगभग 10 प्रतिशत अधिक ट्रांसमिसिबल (तेजी से फैलने वाला) है।



नए वैरिएंट का पहला मामला पाए जाने के बाद स्वास्थ्य हलकों में चिंता की लहर पैदा हो गई है, क्योंकि महाराष्ट्र अब रिकवरी की राह पर है और चल रही तीसरी लहर अपने अंतिम चरण में है, जो दिसंबर 2021 में शुरू हुई थी।

अब तक, राज्य ने दो वर्षों में 78,74,582 कोविड-19 मामले दर्ज किए हैं। साथ ही प्रदेश में अब तक संक्रमण के कारण 147,793 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। यह दोनों ही आंकड़े देश में सबसे अधिक हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 06 Apr 2022, 7:48 PM