महंगाई की मार से देश बेहाल, तेल के दामों में बढ़ोतरी का कांग्रेस सांसद ने किया विरोध, साइकिल से पहुंचे संसद

असम से कांग्रेस सांसद रिपुन बोरा ने कहा कि ईंधन की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कई विरोध प्रदर्शन किए गए। लेकिन अब मुख्य भूमि पर विरोध लाकर बहरे कानों को सुनाने का समय आ गया है। मैं मेरे आवास से संसद में आसमान छूती महंगाई के विरोध में साईकिल से आया हूं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

असम से कांग्रेस सांसद रिपुन बोरा गुरुवार को ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में साइकिल से संसद पहुंचे। चार महानगरों सहित देश के अधिकांश हिस्सों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गई है। बोरा ने मीडिया से बात करते हुए कहा, "सरकार हमें संसद में ईंधन वृद्धि जैसे मुद्दों पर चर्चा करने की अनुमति नहीं दे रही है, इसलिए हमें अत्यधिक मूल्य वृद्धि का विरोध करना होगा।"

ट्विटर पर, कांग्रेस के राज्यसभा सांसद ने लिखा, "असम में ईंधन की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कई विरोध प्रदर्शन किए गए। लेकिन अब मुख्य भूमि पर विरोध लाकर बहरे कानों को सुनाने का समय आ गया है। मैं मेरे आवास से संसद में आसमान छूती महंगाई के विरोध में साईकिल से आया हूं।"

हालांकि, तेल विपणन कंपनियों (ओएमसी) ने लगातार बारहवें दिन, हफ्तों में सबसे लंबी अवधि के लिए ईंधन की कीमतों में संशोधन नहीं किया है।

गुरुवार को कीमतों में कोई बदलाव नहीं होने से राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल 101.84 रुपये प्रति लीटर दर्ज की गई, जबकि डीजल भी 89.87 रुपये प्रति लीटर के अपरिवर्तित मूल्य पर बेचा जा रहा है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia