चक्रवात तौकते मचा सकता है तबाही! इन तीन राज्यों में रेड अलर्ट जारी, NDRF की टीमें रवाना

वर्तमान में लक्षद्वीप द्वीप समूह और अरब सागर से विकसित होने वाले चक्रवात तौकते के रविवार को पूर्ण रूप से चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है, जिससे देश के दक्षिणी और पश्चिमी तटीय भागों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

लक्षद्वीप द्वीप समूह और अरब सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। रविवार तक एक शक्तिशाली चक्रवाती तूफान के प्रकट होने की संभावना है और अगले चार दिनों में गुजरात, महाराष्ट्र और केरल के तटों से टकराने की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी। आईएमडी ने पहले ही मुंबई और ठाणे को येलो अलर्ट जारी कर दिया है, जो तेज हवाओं के साथ अलग-अलग भारी बारिश का संकेत देता है, जबकि गुजरात और केरल के कई जिलों के लिए ऑरेंज और रेड अलर्ट जारी किए गए हैं।

वर्तमान में लक्षद्वीप द्वीप समूह और अरब सागर से विकसित होने वाले चक्रवात तौकते के रविवार को पूर्ण रूप से चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है, जिससे देश के दक्षिणी और पश्चिमी तटीय भागों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है।

आईएमडी ने अपने नवीनतम बुलेटिन में कहा, "इसके अगले 12 घंटों के दौरान गहरे दबाव में और उसके बाद के 12 घंटों के दौरान एक चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है। इसके और तेज होने की संभावना है। यह संभवत: आज शाम तक उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ेगा। फिर उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और 18 मई की सुबह तक गुजरात तट के पास पहुंचने की संभावना है।"

आईएमडी ने कहा कि तूफान लक्षद्वीप द्वीप समूह के बड़े क्षेत्रों में आज (14 मई) से लेकर रविवार तक अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश के साथ मध्यम बारिश लाएगा। आईएमडी के अनुसार केरल में शनिवार, रविवार और सोमवार को अलग-अलग स्थानों पर बहुत ज्यादा बारिश होने की संभावना है।

चक्रवात मुंबई, दक्षिणी कोंकण क्षेत्र के रायगढ़, रत्नागिरि और महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग जिलों, गोवा और गुजरात के कुछ हिस्सों में अगले तीन दिनों तक भारी बारिश होगी, जब तक कि यह मंगलवार को गुजरात तट पर नहीं पहुंच जाता।

आईएमडी के पूवार्नुमान के अनुसार, गुजरात में 17 मई से बारिश शुरू होगी, कच्छ और सौराष्ट्र क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होगी और 19 मई को कच्छ में भारी से बहुत भारी बारिश होगी।

रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग में रविवार और सोमवार को बहुत भारी बारिश होने की संभावना है, जबकि मुंबई, ठाणे और रायगढ़ में सोमवार को बहुत तेज बारिश होगी। इसके अलावा सतारा, कोल्हापुर, पश्चिमी घाट के कुछ हिस्सों और पुणे में रविवार और सोमवार को गरज के साथ बारिश होगी।

तटीय महाराष्ट्र, विशेष रूप से दक्षिण कोंकण क्षेत्र, शनिवार को 60 किमी प्रति घंटे की गति तक पहुंचने वाले और रविवार को महाराष्ट्र-गोवा तटों पर 80 किमी प्रति घंटे तक की गति तक पहुंचने के अलावा समुद्रों की लहरों से प्रभावित हो सकता है।

अरब सागर में पहले से मौजूद मछुआरों को वापस लौटने की सलाह दी गई है जबकि अन्य को 14-18 मई तक समुद्र में ना उतरने की चेतावनी दी गई है। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल, राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल, भारतीय नौसेना और अन्य एजेंसियों को अगले कुछ दिनों में किसी भी घटना से निपटने के लिए हाई अलर्ट पर रखा गया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia