‘हिल स्टेशन’ बनी दिल्ली, मसूरी और शिमला से ज्यादा राजधानी में ठंड, आगे भी राहत की उम्मीद नहीं

अक्सर ऐसा देखा गया है कि दिल्ली-एनसीआर के लोग गर्मियों से दूर भागकर पहाड़ों में जाकर बर्फबारी का लुत्फ उठाते हैं, लेकिन इस साल दिसंबर में दिल्ली ने ठंड के मामले में हिल स्टेशन्स को भी पीछे छोड़ दिया है। इतनी ठंड पड़ी है कि पिछले 119 सालों का रिकॉर्ड टूट गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

इस समय उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में है। देश की राजधानी दिल्ली की बात करे तो इस साल ठंड ने दिसंबर महीने में पिछले 119 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इस बार हालात तो यह है कि दिल्ली में पहाड़ी इलाकों से भी ज्यादा ठंड देखने को मिल रही है। ठंड की हालत यह है कि मसूरी और शिमला से ज्यादा ठंड दिल्लीवासियों को झेलना पड़ रहा है।

मौसम विभाग के मुताबिक, शिमला और मसूरी में इस सप्ताह के अंत में अधिकतम तापमान 14 डिग्री दर्ज किया गया। जबकि दिल्ली में इस दौरान अधिकतम तापमान 14 डिग्री से कम था। शनिवार को दिल्ली में अधिकतम तापमान 14 डिग्री से कम था। शनिवार को दिल्ली में रात का तापमान 2 डिग्री दर्ज किया गया जो शिमला और मसूरी से भी कम था। रविवार को शिमला का न्यूनतम तापमान 2.8 डिग्री था जबकि दिल्ली के कई इलाकों का तापमान भी इसी के पास दर्ज किया गया। वहीं दिल्ली में रविवार को जाफरपुर (11.6) और पालम (13.5) में तापमान 14 डिग्री से भी कम था। मौसम विभाग के अनुसार, तापमान कम रहने का मुख्य कारण मैदानी इलाकों में कोहरे होना है।

शनिवार का तापमान

  • दिल्ली- न्यूनतम तापमान 2.4 और अधिकतम तापमान 13.3 डिग्री
  • शिमला- न्यूनतम 4 और अधिकतम 14.8 डिग्री सेल्सियस
  • मसूरी- न्यूनतम 3.9 और अधिकतम 14.1 डिग्री सेल्सियस

रविवार का तापमान

  • दिल्ली- कई इलाकों में 2.8 डिग्री सेल्सियस के आसप पास
  • शिमला- न्यूनतम तापमान 2.8 डिग्री सेल्सियस
  • मसूरी- न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज

ठंड और कोहरे का असर सीधे सीधे यातायात पर पड़ रहा है। उत्तर भारत के कई क्षेत्रों में घना कोहरा छाने के कारण दिल्ली की ओर आने वाली करीब 30 ट्रेन अपने तय समय से एक से सात घंटे तक देरी से चल रही है। यह जानकारी रेलवे अधिकारियों ने सोमवार को दी।

Published: 30 Dec 2019, 2:29 PM
लोकप्रिय