दिल्ली शराब नीति घोटाला: ईडी ने की एक और गिरफ्तारी, हैदराबाद से अरुण पिल्लई को किया अरेस्ट

दिल्ली शराब घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने हैदराबाद के व्यवसायी अरुण पिल्लई को दिल्ली से गिरफ्तार किया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली सरकार के कथित आबकारी घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने हैदराबाद के अरुण रामचंद्रा पिल्लई नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है। दिल्ली सरकार के कथित आबकारी घोटाला मामले में यह 11वीं गिरफ्तारी की गई है। आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया को भी दिल्ली सरकार के कथित आबकारी घोटाला मामले में 20 मार्च तक न्यायिक हिरासत में दिल्ली की तिहाड़ जेल भेजा गया है।

पिल्लई साउथ ग्रुप का प्रतिनिधित्व कर रहे थे, जिसने कथित तौर पर आप नेताओं को 100 करोड़ रुपये की घूस दी थी, जिसका इस्तेमाल गोवा चुनाव में किए जाने की आशंका है।

साउथ ग्रुप का प्रतिनिधित्व अभिषेक बोइनपल्ली, अरुण पिल्लई और बुची बाबू कर रहे थे। बोईनपल्ली ने विजय नायर (आम आदमी पार्टी के संचार प्रभारी) और उनके सहयोगी दिनेश अरोड़ा के साथ मिलीभगत और साजिश में कथित तौर पर 100 करोड़ दिए।

हाल ही में ईडी ने पिल्लई की हैदराबाद के वट्टीनगुलापल्ली में 2.25 करोड़ रुपये की जमीन कुर्क की थी। पिल्लई को बाद में राउज एवेन्यू डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में पेश किया जाएगा। ईडी उनकी दो सप्ताह की हिरासत की मांग कर सकता है।


खबरों के मुताबिक, सीबीआई द्वारा दिल्ली आबकारी नीति के क्रियान्वयन में कथित अनियमितताओं के संबंध में दर्ज एक एफआईआर में मनीष सिसोदिया समेत कई लोगों तथा संस्थाओं को नामजद किया गया है। सीबीआई ने दिल्ली आबकारी नीति 2021-22 में कथित भ्रष्टाचार को लेकर सिसोदिया को आरोपी नंबर वन बताया है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;