'महामारी में मदद करने वाले फरिश्तों को शिकार बना रही मोदी सरकार', दिल्ली पुलिस ने की बी वी श्रीनिवास से पूछताछ

दिल्ली पुलिस के कुछ अधिकारी शुक्रवार को भारतीय युवा कांग्रेस (आईवाईसी) के कार्यालय में यह जानने के लिए पहुंचे कि आईवाईसी कोविड रोगियों के लिए आवश्यक दवाएं, ऑक्सीजन सिलेंडर और कई अन्य चीजें कैसे उपलब्ध करा रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली पुलिस के कुछ अधिकारी शुक्रवार को भारतीय युवा कांग्रेस (आईवाईसी) के कार्यालय में यह जानने के लिए पहुंचे कि आईवाईसी कोविड रोगियों के लिए आवश्यक दवाएं, ऑक्सीजन सिलेंडर और कई अन्य चीजें कैसे उपलब्ध करा रही है। आईवाईसी सदस्यों के अनुसार, दिल्ली पुलिस अपराध शाखा की टीम के कुछ अधिकारी सुबह करीब 11 बजे मध्य दिल्ली के रायसीना रोड स्थित आईवाईसी कार्यालय पहुंचे।

आईएएनएस के अध्यक्ष श्रीनिवास बी.वी. ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा, "वे इस बारे में पूछताछ करने आए थे कि हम अदालत में दायर याचिका के आधार पर संकट में लोगों की मदद कैसे कर रहे हैं।" उन्होंने कहा कि पुलिस के साथ विवरण साझा किया गया है।

आईवाईसी कार्यकर्ताओं के अनुसार, पुलिस ने उनसे पूछा - वे कोविड -19 महामारी से जूझ रहे लोगों के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर, कई दवाएं, एम्बुलेंस सेवाओं का प्रबंधन और भोजन कहां से ला रहे हैं। आईवाईसी ने कोविड से प्रभावित लोगों की मदद के लिए हैशटैग एसओएसआईवाईसी अभियान शुरू किया है।


इस पूछताछ पर कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करके कहा, 'मदद करने वाले साथियों और युवा कांग्रेस अध्यक्ष बीवी श्रीनिवास को दिल्ली पुलिस भेज कोरोना के मरीज़ों की मदद से रोकना, मोदी सरकार का भयावह चेहरा है, ऐसी घृणित बदले की कार्यवाही से न हम डरेंगे, न हमारा जज़्बा टूटेगा, सेवा का संकल्प और दृढ़ होगा।'

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने #IStandWithIYC के साथ ट्वीट किया कि बचाने वाला हमेशा मारने वाले से बड़ा होता है।


वहीं, कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि हमारे कार्यकर्ताओं को डराया जा रहा है, जो आम आदमी की मदद कर रहे हैं, सरकार को पता चल गया है कि वह बेनकाब हो रही है, वे गुजरात बीजेपी के अध्यक्ष के ठिकाने पर छापेमारी क्यों नहीं कर रहे हैं, जिनके पास से 5 हजार रेमडेसिविर मिला था।

गौरतलब है कि आईवाईसी ने अपने कार्यालय में एक वॉर रूम स्थापित किया है, जिसमें सोशल मीडिया के माध्यम से मिलने वाले अनुरोधों से निपटने के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर, दवाइयां, परिवारों को भोजन और बेघर और एम्बुलेंस सेवाओं आदि में मदद की जाती ह

बता दें कि दिल्ली से कांग्रेस के पूर्व विधायक मुकेश शर्मा से भी क्राइम ब्रांच ने कल पूछताछ की थी। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक दिलीप पांडेय से पूछताछ की थी। इस दौरान आप विधायक दिलीप पांडेय ने केंद्र पर महामारी के दौरान लोगों की मदद करने के लिए परेशान करने का आरोप लगाया था।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 14 May 2021, 5:03 PM