श्रद्धा मर्डर केस में CBI जांच की उठी मांग, दिल्ली HC में याचिका दाखिल, आफताब का भी आज हो सकता है नार्को टेस्ट

श्रद्धा मर्डर केस में एक वकील ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर केस में सीबीआई जांच की मांग की है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली पुलिस आज श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को नार्को टेस्ट से पहले कुछ जरूरी प्री-टेस्ट के लिए अस्पताल लेकर जाएगी। आफताब की पांच दिन की पुलिस हिरासत मंगलवार को समाप्त हो रही है। दिल्ली पुलिस रोहिणी के डॉ बी।आर। अंबेडकर अस्पताल में आफताब का परीक्षण कराने की तैयारी कर रही है।

खबरों के मुताबिक पुलिस ने उसका नार्को टेस्ट कराने के लिए आधिकारिक तौर पर रोहिणी एफएसएल से संपर्क किया है, लेकिन अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है कि यह सोमवार को किया जाएगा या नहीं। इस बीच जांचकर्ताओं को आफताब के फोन को स्कैन करने के दौरान कई ड्रग पेडलर्स के नंबर मिले हैं। सूत्रों ने कहा, ऐसा संदेह है कि वह गांजा और चरस का सेवन करता था। उसके फोन में मुंबई और दिल्ली के ड्रग डीलरों के संपर्क नंबर थे, जिनकी जांच की जा रही है।

इसके अलावा हिमाचल प्रदेश के तोश में पुलिस टीमों को भेजा गया है, क्योंकि जांच के दौरान पता चला कि वह अपने लिव-इन पार्टनर के साथ लंबे समय तक वहां भी रहा था। आफताब ने 18 मई को अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वाकर की गला दबाकर हत्या कर दी थी और उसके शरीर के कई टुकड़े कर दिए थे। पुलिस ने कहा कि छतरपुर में किराए के घर का क्राइम टीम और फोरेंसिक एक्सपर्ट्स द्वारा बारीकी से निरीक्षण किया गया है। घर से कई चीजें जब्त की गई हैं।

अधिकारी ने कहा, आफताब के खुलासे के बाद कुछ वन क्षेत्रों सहित विभिन्न स्थानों पर कई तलाशी अभियान चलाए गए हैं, जहां से कई हड्डियां जब्त की गई हैं। यह पता लगाने के लिए कि हड्डियां श्रद्धा की हैं या नहीं, डीएनए टेस्ट के लिए उसके पिता और भाई के ब्लड सैंपल लिए गए हैं। डीएनए टेस्ट की रिपोर्ट आने में 15 दिन लगेंगे।


उधर, एक वकील ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर श्रद्धा मर्डर केस में सीबीआई जांच की मांग की है। याचिका में कहा गया है कि यह घटना 6 महीने पुरानी है। ऐसे में प्रशासनिक स्टाफ की कमी, सबूतों और गवाहों को खोजने के लिए पर्याप्त तकनीकी और वैज्ञानिक उपकरणों की कमी की वजह से पुलिस कुशलता से इस मामले में जांच नहीं कर सकती। ऐसे में सीबीआई जांच की जाए।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;