पश्चिम बंगाल में अलग राज्य की मांग! प्रदर्शनकारियों ने रेलवे ट्रैक पर किया प्रदर्शन, ट्रेन सेवाएं प्रभावित

रेल-नाकाबंदी विरोध प्रदर्शन कामतापुर पीपुल्स पार्टी (यूनाइटेड) और ऑल कामतापुर स्टूडेंट यूनियन (एकेएसयू) द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

अलग कामतापुर राज्य की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों द्वारा रेल पटरियों को अवरुद्ध करने के बाद शुक्रवार को उत्तर बंगाल के कुछ हिस्सों में ट्रेन सेवाएं प्रभावित हुईं।

रेल-नाकाबंदी विरोध प्रदर्शन कामतापुर पीपुल्स पार्टी (यूनाइटेड) और ऑल कामतापुर स्टूडेंट यूनियन (एकेएसयू) द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।

आंदोलनकारियों ने न्यू मयनागुड़ी और बेटगरा स्टेशनों के बीच जलढाका रेलवे पुल के पास ट्रैक को अवरुद्ध कर दिया है, जो उत्तर बंगाल और असम के बीच एक महत्वपूर्ण क्रॉसओवर प्वाइंट है।

जिसके चलते, वंदे भारत एक्सप्रेस और कामरूप एक्सप्रेस वर्तमान में जलपाईगुड़ी जिले के बेटगरा रेलवे स्टेशन पर फंसी हुई हैं। यहां तक कि लोकल ट्रेन सेवाएं भी बाधित हो गई हैं।प्रभावित क्षेत्र से गुजरने वाली कुछ ट्रेनों का रूट डायवर्ट करना पड़ा।

किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए पश्चिम बंगाल पुलिस, सरकारी रेलवे पुलिस (जीआरपी) और रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के कर्मियों सहित सुरक्षा बलों की एक बड़ी टुकड़ी तैनात की गई है। आंदोलन शाम 6 बजे तक जारी रहेगा।

एकेएसयू नेता सुमन रॉय के मुताबिक, उनका विरोध अलग कामतापुर राज्य के साथ-साथ कामतापुरी भाषा को मान्यता देने की मांग को लेकर भी है।

उन्होंने कहा, ''हमने पहले भी केंद्र और राज्य सरकारों को कई अभ्यावेदन दिए हैं। लेकिन हमारी दलीलों को बार-बार नजरअंदाज किया गया और इसलिए हमें आंदोलन के इस रास्ते पर जाने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।''

रॉय ने यह भी कहा कि अगर उनकी मांगें पूरी नहीं हुईं तो वे आने वाले दिनों में और बड़ा आंदोलन करेंगे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;