अभी उत्तर पश्चिम भारत में जारी रहेगा घने कोहरे का कहर, अगले दो दिनों में पूर्वी भारत तक बढ़ने की संभावना

आईएमडी ने अपने बुलेटिन में कहा कि 2 जनवरी की सुबह तक पंजाब के कई हिस्सों में और उसके बाद के तीन दिनों तक कुछ हिस्सों में घने कोहरे की स्थिति बनी रहने की संभावना है, जबकि हरियाणा, चंडीगढ़ और उत्तर के कुछ हिस्सों में भी ऐसी ही स्थिति बनी रहने की संभावना है।

अभी उत्तर पश्चिम भारत में जारी रहेगा घने कोहरे का कहर, पूर्वी भारत तक बढ़ने की संभावना
अभी उत्तर पश्चिम भारत में जारी रहेगा घने कोहरे का कहर, पूर्वी भारत तक बढ़ने की संभावना
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर पश्चिम भारत में जारी कड़ाके की ठंड और घने कोहरे के कहर के बीच भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने ताजा अपडेट में कहा है कि उत्तर पश्चिम और आसपास के मध्य भारत के मैदानी इलाकों के कई हिस्सों में घना कोहरा अभी जारी रहने की संभावना है। इसके अगले दो दिनों में पूर्वी भारत तक बढ़ने की संभावना है। मौसम पूर्वानुमान एजेंसी ने कहा कि अगले दो दिनों के दौरान पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान के कुछ हिस्सों में सर्दी बढ़ने की संभावना है।

आईएमडी ने अपने बुलेटिन में कहा कि 2 जनवरी की सुबह तक पंजाब के कई हिस्सों में और उसके बाद के तीन दिनों तक कुछ हिस्सों में घने कोहरे की स्थिति बनी रहने की संभावना है, जबकि हरियाणा, चंडीगढ़ और उत्तर के कुछ हिस्सों में भी ऐसी ही स्थिति बनी रहने की संभावना है। 2 जनवरी की सुबह तक उत्तर प्रदेश और अगले 2-3 दिनों के लिए अलग-अलग इलाकों में कोहरा छाने की संभावना नजर आ रही है।


आईएमडी ने आगे कहा कि 2 जनवरी की सुबह तक राजस्थान और उत्तराखंड के अलग-अलग हिस्सों में घना कोहरा छाए रहने की संभावना है और अगले दो दिनों तक अलग-अलग हिस्सों में ऐसा ही मौसम बना रहेगा। पंजाब और हरियाणा के अलग-अलग हिस्सों में 4 जनवरी तक, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और मध्य प्रदेश में एक जनवरी तक कोल्ड डे रहने की संभावना है।

आईएमडी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश में एक जनवरी तक, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, बिहार, झारखंड, ओडिशा, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में 2 जनवरी तक सुबह के समय कुछ घंटों के लिए अलग-अलग इलाकों में घने कोहरे की स्थिति बने रहने की संभावना है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;