स्पष्ट बहुमत की बन रही केंद्र में सरकार, फिर आखिर क्यों गिरा शेयर बाजार!

लोकसभा चुनाव के नतीजों में बीजेपी की अगुवाई में एनडीए को प्रचंड बहुमत की ओर बढ़ता देख जोरदार तेजी के साथ रिकॉर्ड ऊंचाइयों पर पहुंचने के बाद भी शेयर बाजार गिर गया। बाजार का प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी गुरुवार को गिरावट के साथ बंद हुए।

फोटो : Getty Images
फोटो : Getty Images

आईएएनएस

लोकसभा चुनाव के परिणामों में भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को प्रचंड बहुमत की ओर बढ़ता देख जोरदार तेजी के साथ रिकॉर्ड ऊंचाइयों पर पहुंचने के बाद प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी गुरुवार को गिरावट के साथ बंद हुए। सेंसेक्से पिछले सत्र से 299 अंक फिसलकर 39,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे बंद हुआ। वहीं, निफ्टी भी करीब 81 अंक की गिरावट के साथ 11,657 पर रहा।

मतगणना के आरंभिक रुझानों में राजग हो मिलती बढ़त का भारतीय शेयर बाजार ने खुले मन से स्वागत किया और प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाइयों पर चले गए। एक समय सेंसेक्स ऐतिहासिक ऊंचाई 40,124.96 पर जा पहुंचा और निफ्टी 12,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर गया।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र की क्लोजिंग से 298.82 अंक यानी 0.76 फीसदी फिसलकर 38,811.39 पर बंद हुआ, जबकि सेंसेक्स सुबह 481.56 अंकों की शानदार बढ़त के साथ 39,591.77 पर खुलने के बाद रिकॉर्ड 40,124.96 तक उछला। कारोबार के दौरान सेंसेक्स का निचला स्तर 38,651.61 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 80.85 अंकों यानी 0.69 फीसदी की गिरावट के साथ 11,657.05 पर बंद हुआ, जबकि सुबह 163.4 अंकों की मजबूती के साथ 11,901.30 पर खुलने के बाद निफ्टी कारोबार के दौरान 12,041.15 तक उछला। दिनभर के कारोबार के दौरान निफ्टी का निचला स्तर 11,614.50 रहा।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी गिरावट दर्ज की गई। मिडकैप सूचकांक 21.46 अंकों यानी 0.15 फीसदी की गिरावट के साथ 14,650.37 पर रहा। वहीं, स्मॉलकैप सूचकांक 16.33 अंकों यानी 0.11 फीसदी की गिरावट के साथ 14,352.93 पर बंद हुआ।

बीएसई के नौ सेक्टरों के सूचकांकों में 12 में गिरावट जबकि सात में तेजी रही। सबसे ज्यादा गिरावट वाले सूचकांकों में फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स (1.82 फीसदी), मेटल (1.57 फीसदी), इन्फोरमेशन टेक्नोलोजी (0.89 फीसदी), फाइनेंस (0.52 फीसदी) और टेक (0.51 फीसदी) शामिल रहे।

वहीं, सबसे ज्यादा बढ़त वाले सेक्टरों में टेलीकॉम (0.97 फीसदी), इंडस्ट्रियल (0.66 फीसदी), रियल्टी (0.55 फीसदी), पावर (0.47 फीसदी) और तेल व गैस (0.36 फीसदी) शामिल रहे।

लोकप्रिय