अदालत में टूटी 'टूलकिट' बनाने वाली दिशा रवि, कहा- सिर्फ संपादित किया था, पुलिस ने कहा सरकार के खिलाफ थी साजिश

पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने जिस टूलकिट को शेयर किया था, उसे बेंग्लुरु से गिरफ्ता जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि ने तैयार किया था। यह आरोप दिल्ली पुलिस ने लगाया है। हालांकि दिशा रवि ने कोर्ट में कथित तौर पर बताया कि उसने इसके सिर्फ दो वाक्यों को संपादित किया था।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली की एक अदालत ने रविवार को किसानों के विरोध से संबंधित 'टूलकिट' साझा करने के आरोप में गिरफ्तार 21 वर्षीया जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि को पांच दिनों के लिए पुलिस की स्पेशल सेल की हिरासत में भेज दिया। दिशा को दिल्ली पुलिस ने शनिवार को बेंगलुरु के सोलादेवनाहल्ली इलाके से गिरफ्तार किया था। वह 'फ्राइडे फॉर फ्यूचर' कैम्पेन के संस्थापकों में से एक हैं और उसने कथित रूप से 'टूलकिट' को संपादित किया और इसे सोशल मीडिया पर फॉरवर्ड किया।

दिशा रवि को पहले दिल्ली में पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया। उसकी हिरासत की मांग करते हुए, दिल्ली पुलिस ने अदालत से कहा, "यह भारत सरकार के खिलाफ एक बड़ी साजिश है।" बताया जाता है कि आरोपी अदालत कक्ष में टूट गई और उसने ड्यूटी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट देव सरोहा को बताया कि उसने टूलकिट नहीं बनाया है, लेकिन केवल '3 फरवरी को दो को संपादित' किया था।

दिल्ली पुलिस ने टूलकिट बनाने वालों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124-ए, 120-ए और 153-ए के तहत राजद्रोह, आपराधिक षड्यंत्र और समूहों के बीच घृणा को बढ़ावा देने के आरोप में 4 फरवरी को एफआईआर दर्ज की थी। टूलकिट को अंतर्राष्ट्रीय जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने भी साझा किया था।

पुलिस के अनुसार, 26 जनवरी के आसपास किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई घटनाओं, जिसमें लालकिले के पास हिंसा भी शामिल है, इन सबका टूलकिट में विस्तृत रूप से 'एक्शन प्लान' के तौर पर जिक्र है। पुलिस ने कहा कि इसे बनाने वालों की मंशा विभिन्न सामाजिक, धार्मिक और सांस्कृतिक समूहों के बीच असहमति पैदा करने और केंद्र सरकार के खिलाफ असहमति को प्रोत्साहित करना था और इसका उद्देश्य भारत के खिलाफ सामाजिक, सांस्कृतिक और आर्थिक युद्ध छेड़ना था।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia