‘मी टू’ आरोपी एमजे अकबर को अब भी बीजेपी मानती है मोदी का मंत्री, प्रवासी भारतीय सम्मेलन की बुकलेट में छपी फोटो

यूपी के वाराणसी में प्रवासी भारतीय दिवस की शुरुआत के पहले ही दिन विवाद हो गया। यह विवाद आयोजकों की ओर से बांटी जा रही फोटो बुकलेट में पूर्व विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर का फोटो छपने के कारण हुआ है। इस बुकलेट के अनुसार अकबर अभी भी विदेश राज्यमंत्री हैं।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

यूपी के वाराणसी में 15वें प्रवासी भारतीय दिवस का शुभारंभ हो चुका है, लेकिन इसके शुरूआत के साथ ही बीजेपी सरकार के लिए मुसीबत लाकर खड़ा कर दी है। मुसीबत की जड़ बीजेपी और एमजे अकबर के बीच अटूट प्रेम है। दरअसल इस प्रवासी भारतीय सम्मेलन में आए अतिथियों को एक बुकलेट बांटी जा रही है। इस बुकलेट में केंद्र सरकार और पीएम मोदी की उपलब्धियां गिनाई गई हैं। लेकिन इस बुकलेट के कवर पेज पर पीएम और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ मीटू के आरोपी एमजे अकबर की तस्वीर छपी हुई है। इतना ही नहीं इस बुकलेट के अनुसार अकबर अभी भी विदेश राज्यमंत्री हैं।

‘मी टू’ आरोपी एमजे अकबर को अब भी बीजेपी मानती है मोदी का मंत्री, प्रवासी भारतीय सम्मेलन की बुकलेट में छपी फोटो

बता दें किसाल 2016 में एमजे अकबर ने बतौर विदेश राज्यमंत्री पद की शपथ ली थी, लेकिन पिछले साल चले मी टू अभियान में कई महिला पत्रकारों ने उन पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। इन आरोपों के बाद विपक्ष की ओर से सरकार पर एमजे अकबर को हटाने का दबाव बनाया गया था, और एमजे अकबर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। एमजे अकबर पर सबसे पहले वरिष्ठ पत्रकार प्रिया रमानी ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। जिसके बाद एक-एक करीब करीब कई महिला ने उनके खिलाफ गंभीर आरोप लगाए थे। लेकिन इन सब के बावजूद बीजेपी का एमजे अकबर से प्रेम खत्म नहीं हो रहा है। इसका सबूत आज वाराणसी के प्रवासी भारतीय सम्मेलन में देखने को मिला।

बता दें कि 21 जनवरी से 23 जनवरी तक वाराणसी में प्रवासी भारतीय दिवस समारोह का आयोजन चलेगा। इस आयोजन में पीएम मोदी भी 22 जनवरी को शिरकत करेंगे।

Published: 21 Jan 2019, 2:55 PM
लोकप्रिय
next