उज्जैन महाकालेश्वर मंदिर के गर्भगृह के लिए ड्रेस कोड तय, पुरुषों को धोती, महिलाओं को साड़ी में ही मिलेगा प्रवेश

महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की डीएम कुमार पुरुषोत्तम की अध्यक्षता में बैठक में यह भी तय किया गया कि उज्जैन वासियों को हफ्ते में एक दिन भस्म आरती में निःशुल्क प्रवेश दिया जाएगा। इसके लिए मंगलवार का दिन तय हुआ है। इसमें भक्तों की क्षमता सीमित रखी जाएगी।

उज्जैन महाकालेश्वर मंदिर के गर्भगृह के लिए ड्रेस कोड तय
उज्जैन महाकालेश्वर मंदिर के गर्भगृह के लिए ड्रेस कोड तय
user

नवजीवन डेस्क

मध्य प्रदेश की धार्मिक नगरी उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर के गर्भगृह में आने वाले दर्शनार्थियों के लिए ड्रेस कोड तय किया गया है। अब पुरुषों को यहां धोती, सोला और महिलाओं को साड़ी पहनकर आने पर ही प्रवेश मिलेगा। यह व्यवस्था जल्दी ही लागू कर दी जाएगी।

महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की जिलाधिकारी कुमार पुरुषोत्तम की अध्यक्षता में बैठक हुई। इस बैठक में तय किया गया कि उज्जैन वासियों को सप्ताह में एक दिन भस्म आरती में निःशुल्क प्रवेश दिया जाएगा। इसके लिए मंगलवार का दिन तय हुआ है। इसमें भक्तों की क्षमता सीमित रखी जाएगी।


इसके साथ ही मंदिर प्रबंध समिति ने फैसला लिया है कि गर्भगृह में प्रवेश करने वालों को धोती और सोला पहनना होगा। अभी तक आम दिनों में सभी श्रद्धालुओं को सामान्य कपड़ों में प्रवेश दिया जा रहा था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। गर्भगृह में प्रवेश के लिए ड्रेस कोड अनिवार्य होगा।

समिति ने तय किया है कि गर्भगृह खुलने के बाद आम श्रद्धालुओं को भी धोती-सोला पहनने के बाद ही प्रवेश मिलेगा। वहीं, महिलाओं के लिए साड़ी पहनना अनिवार्य होगा। वर्तमान में आम जनों के लिए गर्भगृह में प्रवेश पर बीते लगभग ढाई माह से रोक लगी हुई है, आने वाले दिनों में समिति की फिर बैठक होगी और गर्भगृह में आमजनों के प्रवेश को शुरु किया जाएगा।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */