राम मंदिर कार्यक्रम के चलते कल से 22 जनवरी तक वंदे भारत समेत 10 ट्रेन रद्द, 35 का रूट बदला

रेलवे के अनुसार, 16-22 जनवरी के बीच अयोध्या-आनंद विहार वंदे भारत एक्सप्रेस सहित 10 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं। इसके अलावा दून एक्सप्रेस सहित 35 ट्रेनों के रूट में बदलाव किया गया है। वहीं 14 अन्य ट्रेनों की आवाजाही भी इस दौरान प्रभावित रहेगी।

कल से 22 जनवरी तक अयोध्या जाने वाली वंदे भारत समेत 10 ट्रेन रद्द, 35 का रूट बदला
कल से 22 जनवरी तक अयोध्या जाने वाली वंदे भारत समेत 10 ट्रेन रद्द, 35 का रूट बदला
user

नवजीवन डेस्क

अयोध्या में बन रहे राम मंदिर में 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा समारोह की तैयारियां जोरशोर से चल रही हैं। इस समारोह को लेकर भारी संख्या में लोगों के वहां पहुंचने की संभावना है। लेकिन इसी दौरान रेलवे ने अयोध्या वंदे भारत समेत 10 ट्रेनों को 22 जनवरी तक रद्द करने का फैसला किया है। इसके अलावा 35 ट्रेनों के मार्ग में भी बदलाव का ऐलान किया गया है। इसकी वजह प्राथमिकता के आधार पर किए जा रहे पटरियों के दोहरीकरण और विद्युतीकरण के कार्य को बताया जा रहा है।

उत्तर रेलवे के लखनऊ मंडल की वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक रेखा शर्मा ने सोमवार को बताया कि राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा को लेकर प्राथमिकता के आधार पर किए जा रहे पटरियों के दोहरीकरण और विद्युतीकरण के कार्य के कारण 16 से 22 जनवरी तक इस रूट पर रेल गाड़ियों की आवाजाही प्रभावित रहेगी। उन्होंने बताया कि वंदे भारत समेत 10 ट्रेन रद्द कर दी गई हैं, जबकि दून एक्सप्रेस समेत 35 ट्रेनें वैकल्पिक मार्ग से चलेंगी। साथ ही 14 अन्य ट्रेनों का परिचालन भी प्रभावित रहेगा।


रेलवे अधिकारी रेखा शर्मा ने बताया कि अयोध्या कैंट से आनंद विहार तक संचालित की जाने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस को पहले से जारी कार्यों के कारण 15 जनवरी तक रद्द कर दिया गया था। उन्होंने कहा कि यह ट्रेन अब 22 जनवरी तक रद्द रहेगी। रेलवे के एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए अयोध्या रेलवे खंड का दोहरीकरण उच्च प्राथमिकता पर किया जा रहा है। इसी कारण कुछ ट्रेनों का परिचालन प्रभावित रहेगा।

वहीं उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी हिमांशु शेखर उपाध्याय ने बताया कि 22426 आनंद विहार-अयोध्या कैंट वंदे भारत एक्सप्रेस और 22425 अयोध्या कैंट-आनंद विहार वंदेभारत एक्सप्रेस 16 से 22 जनवरी तक नहीं चलेगी। इस ट्रेन में एडवांस बुकिंग करा चुके यात्रियों को फुल रिफंड किया जाएगा। ऑनलाइन टिकट का किराया सीधे बैंक खाते में आ जाएगा। जबकि काउंटर टिकट कराने वालों को रिफंड के लिए रेलवे काउंटर पर ही जाना पड़ेगा।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;