दिल्ली से बिहार तक भारत बंद का असर, हरियाणा, पंजाब में ट्रेनें ठहरीं, एनसीआर में सड़क यातायात प्रभावित

कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले एक साल से प्रदर्शन कर रहे किसानों ने आज यानी सोमवार को भारत बंद बुलाया है, जिसे कई राजनीतिक दलों ने भी समर्थन दिया है। भारत बंद का असर पूरे देश में देखा जा रहा है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले एक साल से प्रदर्शन कर रहे किसानों ने आज यानी सोमवार को भारत बंद बुलाया है, जिसे कई राजनीतिक दलों ने भी समर्थन दिया है। भारत बंद का असर पूरे देश में देखा जा रहा है। किसान देश के अलग-अलग हिस्सों में प्रदर्शन कर रहे हैं। कई जगह सड़कों-रेलवे ट्रैक को जाम किया गया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

पंजाब और हरियाणा में विभिन्न स्थानों पर दो दर्जन से अधिक ट्रेनों को रोक दिया गया है, वहीं राजधानी दिल्ली की ओर सड़क यातायात बड़े पैमाने पर प्रभावित हुआ है। वहीं दिल्ली में सड़क और मेट्रो यातायात करीब-करीब सामान्य गति से चल रहा है। संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक भारत बंद का आह्वान किया है। भारत के राष्ट्रपति ने पिछले साल तीन कृषि कानूनों को इसी दिन अपनी सहमति दी थी। शहर के भीतर, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने सुबह से ही प्रतिष्ठित लाल किले के दोनों कैरिजवे बंद कर दिए हैं। यह कदम 26 जनवरी को हुई घटनाओं के मद्देनजर उठाया गया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने पंडित श्री राम मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया है जो पश्चिमी दिल्ली में टिकरी सीमा के करीब है। हालांकि, अन्य जगहों पर मेट्रो बिना किसी देरी के संचालित है। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा, "न केवल दिल्ली-एनसीआर में बल्कि पूरे भारत में सभी बाजार खुले रहे। हम हर जगह अपने प्रतिनिधियों के साथ लगातार संपर्क में हैं। हालात सामान्य हैं।"

गाजीपुर सीमा पर सुबह आठ बजे तक यातायात सामान्य रहा, जबकि उत्तर प्रदेश से सीमा की ओर जाने वाले यातायात को पुलिस वाहनों और एंबुलेंस को छोड़कर रोक दिया गया। किसानों को बड़ी संख्या में सड़क पर बैठे और कृषि कानूनों के खिलाफ नारे लगाते देखा जा सकता है।


फोटो: IANS
फोटो: IANS

टिकरी सीमा पर, किसानों ने बहादुरगढ़ रेलवे स्टेशन पर लगभग कब्जा कर लिया है और रेलवे लाइन पर बैठ रहे हैं। हालांकि, सड़क यातायात और रेलवे स्टेशन के बाहर जनजीवन सामान्य रहा, दुकानें खुली रहीं, लोग दोपहिया और चौपहिया वाहनों का भी उपयोग कर स्वतंत्र रूप से घूम रहे थे। टिकरी सीमा के पास मेट्रो स्टेशन पर जहां सुरक्षा व्यवस्था सख्त थी, वहीं उस स्टेशन से मेट्रो रेल सेवाओं में कोई व्यवधान नहीं आया।

बागपत राजमार्ग को जोड़ने वाली लोनी सीमा यातायात के लिए खुली रही और लोनी सीमा पर सभी प्रवेश और निकास बिंदुओं पर यातायात बाधित नहीं हुआ। हालांकि भारत बंद के मद्देनजर सीमावर्ती इलाके में सुरक्षा बलों को तैनात कर दिया गया है।


दिल्ली-जयपुर एक्सप्रेसवे पर यात्रियों को भारी ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ा, क्योंकि दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने वाले किसानों पर नजर रखने के लिए दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर बैरियर लगा दिए थे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia