चुनाव आयोग ने तेलंगाना के पूर्व DGP का निलंबन किया रद्द, मतगणना के दौरान CM रेड्डी से मिलने पर हुई थी कार्रवाई

अंजनी कुमार को काउंटिंग के दिन वर्तमान मुख्यमंत्री ए. रेवंत रेड्डी से मुलाकात के लिए निलंबित किया गया था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

निर्वाचन आयोग (ईसीआई) ने तेलंगाना के पूर्व पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अंजनी कुमार का निलंबन रद्द कर दिया है। उन्हें काउंटिंग के दिन वर्तमान मुख्यमंत्री ए. रेवंत रेड्डी से मुलाकात के लिए निलंबित किया गया था।

आयोग ने उन्हें रेवंत रेड द्वारा आचार संहिता का उल्लंघन करने के लिए निलंबित कर दिया था, जो उस समय तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमेटी (टीपीसीसी) के अध्यक्ष थे। अंजनी कुमार के निलंबन के बाद, भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) के महानिदेशक रवि गुप्ता को डीजीपी नियुक्त किया गया था।

अंजनी कुमार द्वारा स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के बाद आयोग ने निलंबन हटा दिया, जिसमें उन्होंने कहा कि उन्होंने जानबूझकर मॉडल कोड का उल्लंघन नहीं किया है। आईपीसी अधिकारी ने आयोग को बताया कि वह रेवंत रेड्डी के अनुरोध पर उनके घर गए थे। उन्होंने कथित तौर पर आयोग को आश्वासन दिया कि भविष्य में गलती दोहराई नहीं जाएगी।


ईसीआई ने 3 दिसंबर को मुख्य सचिव को अंजनी कुमार को निलंबित करने और अगले वरिष्ठतम योग्य अधिकारी को डीजीपी का प्रभार सौंपने का निर्देश दिया था। यह अभी साफ नहीं है कि अंजनी कुमार को डीजीपी के रूप में बहाल किया जाएगा या रवि गुप्ता इस पद पर बने रहेंगे। इसके बारे में रेवंत रेड्डी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार फैसला लेगी। सरकार अगले कुछ दिनों में ब्यूरोक्रेसी में बड़ा फेरबदल कर सकती है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;