छत्तीसगढ़ में गांव तक स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत करने पर जोर, तीसरी लहर से निपटने की तैयारी में जुटे सीएम बघेल

दूसरी लहर के अनुभव के आधार पर छत्तीसगढ़ सरकार ने सभी जिला और प्रखंड स्तर के अस्पतालों को सभी सुविधाओं से लैस करते हुए उन्हें अपग्रेड करना शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री ने सभी जिला कलेक्टरों को 15 दिनों के भीतर कार्य योजना प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

छत्तीसगढ़ ने कोराना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए कमर कस ली है और इसके लिए राज्य भर के सभी सरकारी अस्पतालों को अपग्रेड किया जा रहा है और अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस किया जा रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने और राज्य के दूरदराज के क्षेत्रों में भी आम लोगों के लिए स्वास्थ्य और चिकित्सा सुविधाओं को आसानी से सुलभ बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

दूसरी लहर के अनुभवों से सीख लेते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने सभी जिला और प्रखंड स्तर के अस्पतालों को सभी सुविधाओं से लैस करते हुए उन्हें अपग्रेड करना शुरू कर दिया है।मुख्यमंत्री ने सभी जिला कलेक्टरों को अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों के उन्नयन के लिए 15 दिनों के भीतर कार्य योजना प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।


सीएम बघेल ने कहा कि हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर अपग्रेडेशन के इस काम को सर्वोच्च प्राथमिकता के तौर पर किया जाए ताकि तीसरी लहर आए तो भी राज्य पूरी ताकत से इससे लड़ने के लिए तैयार रहे। बघेल ने कहा कि पिछले छह महीनों में इन अस्पतालों में आईसीयू, ऑक्सीजन से संबंधित उपकरण, बेड, वेंटिलेटर जैसी सुविधाओं को बढ़ाया गया है और मरीजों को बेहतर कोविड उपचार प्रदान करने के लिए इन्हें अपग्रेड किया गया है।

कोविड की तीसरी लहर की तैयारी के लिए ऐसे चिकित्सा उपकरणों का उचित रखरखाव और उपयोग सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है। हाल ही में, स्वास्थ्य प्रबंधन को और मजबूत करने की आवश्यकता को देखते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में डॉक्टरों की संख्या में भी उल्लेखनीय वृद्धि की गई है।


बघेल ने निर्देश देते हुए कहा कि सभी जिला अस्पतालों और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के विकास की कार्ययोजना जल्द से जल्द तैयार की जाए। इस योजना के तहत उपरोक्त सभी अस्पतालों को ऑपरेशन थिएटर, लेबर रूम, लैबोरेटरी, आईसीयू, वेंटिलेटर, ब्लड बैंक और मुफ्त दवाओं आदि से सुसज्जित किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन अस्पतालों में चौबीसों घंटों इलाज उपलब्ध कराने के लिए सुविधाओं को अपग्रेड किया जाए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia