राजस्थान में घरों-सड़कों पर मिल रही हैं ईवीएम, पाली में बीजेपी विधायक के मोहल्ले में मिली तो कराई उल्टी एफआईआर

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के बाद अब राजस्थान में भी ईवीएम मशीनों की सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं। ताजा मामला पाली का है, जहां के आदर्श नगर विधानसभा क्षेत्र में एक महिला चुनाव अधिकारी के घर से ईवीएम मशीनें बरामद हुई हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अब राजस्थान में भी ईवीएम मशीनों की सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं। ताजा मामला पाली का है, जहां के आदर्श नगर विधानसभा क्षेत्र में एक महिला चुनाव अधिकारी के घर से ईवीएम मशीनें बरामद हुई हैं। महिला अधिकारी के घर के खड़ी सरकारी जीप में भी कई ईवीएम मशीनें पाई गईं, जिसके बाद वहां हंगामा खड़ा हो गया। खास बात ये है कि उक्त महिला अधिकारी का घर स्थानीय बीजेपी विधायक और चुनाव में उम्मीदवार ज्ञानचंद पारख के मोहल्ले में ही है। ईवीएम मिलने का वीडियो वायरल होने के बाद वहां हंगामा खड़ा हो गया, जिसके बाद स्थानीय पुलिस के साथ रिटर्निंग अधिकारी ने मौके पर पहुंच मशीनें अपने कब्जे में ले लीं।

बताया जा रहा है कि सभी ईवीएम सुरक्षित और सील मिली हैं। घटना पर सफाई देते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि किसी इमरजेंसी की वजह से महिला अधिकारी अपने घर गई थीं और मशीनों से भरी जीप घर के बाहर खड़ी थी। उन्होंने ये भी कहा कि सभी मशीनें सुरक्षित मिली हैं और महिला अधिकारी की कोई गलत मंशा सामने नहीं आई है। लेकिन आम आदमी पार्टी से जुड़े अंकित लाल ने घटना का जो वीडियो ट्वीट किया है, उसमें जीप के अलावा घर के अंदर भी ईवीएम मशीनें रखी नजर आ रही हैं। इसके अलावा सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में भी अधिकारी के घर में ईवीएम मशीनें रखी नजर आ रही हैं।

वहीं, घटना का वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी प्रत्याशी ज्ञानचंद पारख ने ही उल्टा एएफईआर दर्ज करा दिया है। उनके वकील जगदीश सिंह ने जिले के ट्रांसपोर्ट नगर थाने में वीडियो फैलाने वालों के खिलाफ बदनाम करने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज करा दिया है।

इसके अलावा राजस्थान के किशनगंज विधानसभा क्षेत्र में भी ऐसी ही घटना सामने आ चुकी है। घटना बारन जिले के किशनगंज विधानसभा क्षेत्र के शाहाबाद इलाके की है, जहां रात में एनएच 27 पर स्थित मुगावली रोड पर एक सीलबंद ईवीएम के सड़क पर लावारिस हालत में मिलने से हड़कंप मच गया। सड़क पर ईवीएम मिलने की खबर के बाद पुलिस ने आकर उसे अपने कब्जे में ले लिया।

इस तरह से चुनावी राज्यों में गली-गली, सड़क-सड़क, होटलों आदि से ईवीएम मशीनों के मिलने से ईवीएम की सुरक्षा पर गंभीर सवाल खड़े होते हैं। मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ से ईवीएम छेडछाड़ की खबरें आने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं को सर्तक रहने की सलाह दी थी। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता चौकन्ना रहें, क्योंकि मोदी सरकार में ईवीएम में अजीब तरह की शक्तियां होती हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;